खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज रेवाड़ी गैंगरेप काण्‍ड के दो अन्‍य आरोपी SIT की गिरफ्त में राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश खेल मंत्रालय ने दी सफाई, विराट कोहली को क्‍यों चुना गया 'खेल रत्‍न' के लिए समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर आंध्रप्रदेश : नक्‍सलियों ने की टीडीपी के विधायक और पूर्व विधायक की हत्‍या क्‍यों मनाई जाती है अनंत चतुदर्शी, क्‍या है अंनतसूत्र का महत्‍व

चिट फण्ड कंपनियों मे गलत निवेश से बचें, अपने खाते की जानकारी किसी को न दें

चिट फण्ड कंपनियों मे गलत निवेश से बचें, अपने खाते की जानकारी किसी को न दें

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 21:44:35

चिट फण्ड, भारतीय रिजर्व बैंक

 
भारतीय रिजर्व बैंक की जमाकर्ता शिक्षा एवं जागरूकता निधि अंतर्गत बैंकिंग ग्राहको के संरक्षण एवं जागरूकता हेतु कार्यशाला में सायबर क्राईम से बचने के उपाय बताये
उज्जैन। भारतीय रिजर्व बैंक की जमाकर्ता शिक्षा एवं जागरूकता निधि अन्तर्गत एक दिवसीय ग्राहक संरक्षण एवं शिक्षा जागरूकता कार्यशाला का आयोजन अपराजिता महिला संघ द्वारा किया गया। जिसमें चिट फंड कंपनियों में गलत निवेश से बचने तथा अपने खातों की जानकारी गुप्त रखने की समझाईश देते हुए सायबर क्राईम से बचने के उपाय बताये गये। 
दशहरा मैदान स्थित होटल सुराना पैलेस में आयोजित कार्यशाला में मुख्य अतिथी के रूप मे भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से सत्येन्द्र राजपूत, उज्जैन जिला अग्रणी प्रबंधक गुप्ताजी, उज्जैन जिला सायबर सेल से सबपुलिस इन्सपेक्टर गोपाल अजनार, नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक उज्जैन शाखा प्रबंधक राजेन्द्र माहेश्वरी, ए.यू बैक से विनय, बैंक ऑफ बडौदा दीपक खड़का, आय.सी.आय.सी.आय बैंक प्रबंधक, बैंक ऑफ इंडिया वित्तीय साक्षरता प्रभारी डी.एस यादव, पी.एन उपाध्याय, एस.के व्यास, प्रशान्त राठी सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे। कार्यशाला मे अलग अलग सत्रों मे ग्राहक संरक्षण एवं शिक्षा, सायबर क्राइम, चिट फंड कंपनी, बैंकिग उत्पाद एवं सेवाएं, अपने ग्राहक को जानने सबंधी नियम, शासन की बीमा योजनाएं बैंकिग लोकपाल योजना की पॉवर पाईन्ट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से जानकारी प्रदान की। कार्यशाला मे स्थानीयजनों ने विभिन्न स्थानीय बैंकिग समस्याओं के निराकारण समस्याओं को लेकर सवाल जबाब किए। जिस पर वरिष्ठ अनुभवी बैंकर्स द्वारा समाधान किया गया एवं उचित समस्याओं को बैंकिग मुख्य, क्षैत्रीय कार्यालय, बैंकिग लोकपाल के माध्यम से भारतीय रिजर्व बैंक तक अपनी समस्याओं के निराकरण हेतु मार्गदर्शित किया। भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से पधारे सत्येन्द्र राजपूत द्वारा सायबर क्राइम, चिट फण्ड कंपनियों मे गलत निवेष करने से बचने सबंधी जानकारी, पुलिस विभाग की ओर से उपस्थित गोपाल अजनार द्वारा सायबर क्राइम, चिट फण्ड कंपनियों के प्रति सचेत रहने, अपने बैंक सबंधित विवरण गुप्त रखने तथा सतर्क रहने हेतु निर्देशित किया। अग्रणी जिला प्रबंधक द्वारा बैंको की कार्यप्रणाली, व्यक्तिगत सिविल रिर्पोट की महत्वता एवं बैंक उत्पादो के बारे मे विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यशाला मे सबंधित विषय पर आधारित नुक्कड नाटक का मंचन भी राघवेन्द्र तिवारी द्वारा किया गया जिसे उपस्थित प्रतिभागियों और अतिथियों द्वारा सराहा गया। कार्यशाला का आयोजन अपराजिता महिला संघ द्वारा किया गया जिसमे संस्था से सचिव रेखा रामजे, वरिष्ठ प्रबंधक प्रबोध गुप्ता, राजेन्द्र कुमार, गोपाल चौहान, मेघा अनमूले, पायल कौशल उपस्थित रहे। कार्यशाला का संचालन राजेन्द्र कुमार ने किया एवं आभार गोपाल चौहान ने माना। 

Tags: चिट फण्ड, भारतीय रिजर्व बैंक

Post your comment
Name
Email
Comment
 

उज्जैन

विविध