खास खबरें दक्षिण ग्रामीण कार्यालय के शुभारंभ पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने ग्रहण की कांग्रेस की सदस्यता विदेशी फंडिंग से घाटी में तैयार हो रहे है आतंकी - सेना प्रमुख पेरिस में टॉपलेस होकर महिला ने किया ट्रम्‍प का विरोध, समारोह में विश्‍व के कई नेता थे शामिल बॉक्सिंग के खिलाडि़यों को दिल्‍ली की हवा में हो रही सांस लेने में दिक्‍कत तेलंगाना में कांग्रेस की पहली सूची जारी, 65 प्रत्‍याशियों के नाम शामिल केदारनाथ का नया पोस्‍टर रिलीज निफ्टी 10630 के पार, सेंसेक्स 150 अंक मजबूत आचार संहिता के 35 दिनों में अब-तक लगभग 50 करोड़ की सामग्री और नगदी जब्त : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी टीचर नें छात्र की इतनी बेरहमी से की पिटाई की छात्र को मार गया लकवा, कसूर सिर्फ ड्राइंग बुक पूरी नही की.. आज मिलेगा श्री गणेश से सौभाग्‍य का वरदान, लाभ पंचमी पर ऐसे करें विघ्‍नहर्ता की पूजा

राखी पर था बेटे का इंतजार, कब्र खोदकर निकालनी पड़ी बेटे की लाश

राखी पर था बेटे का इंतजार, कब्र खोदकर निकालनी पड़ी बेटे की लाश

Post By : Dastak Admin on 30-Aug-2018 11:13:51

suresh goyal murder case


उज्जैन.  इंदौर रोड शक्करवासा पर हुए मजदूर सुरेश गोयल हत्याकांड में पुलिस ने परिजनों की मौजदूगी में कब्र खुदवाकर लाश निकाली। इस दौरान हाथों में नए कपड़े और फूल लिए वृद्ध पिता नारायण गोयल टकटकी लगाए कब्र की ओर देख रहे थे कि कब बेटे का शव बाहर निकले और मैं उसे आखिरी बार जी भर के देख तो लूं। आधे घंटे इंतजार के बाद कब्र से सुरेश की लाश बाहर निकाली तो वह सड़ चुकी थी देखना तो दूर पास खड़े होने की स्थिति नहीं थी। यह देख पिता ने रोते हुए कहा हम तो राखी पर इंतजार कर रहे थे कि सुरेश घर क्यों नहीं आया, अरे वह कैसे आता मार जो डाला उसे। बूढ़े पिता को छोटे बेटे और रिश्तेदारों ने दिलासा देकर चक्रतीर्थ पर शाम को अंतिम संस्कार कराया। पुलिस हत्याकांड का खुलासा गुरुवार को करेगी।

 

उज्जैन में रहकर मजदूरी करने वाला 25 साल का सुरेश गोयल माकड़ौन के दुधली गांव का रहने वाला था। नागझिरी पुलिस मंगलवार की शाम परिजनों को माकड़ौन से उन्हें शिनाख्त कराने के लिए लेकर आई थी। बुधवार को एसडीएम कार्यालय से शव को कब्र से खुदवाने की अनुमति के बाद एएसआई सलीम खान ने शव निकलवा परिजन को सौंपा। इस दौरान पिता नारायण समेत भाई दिनेश और परिवार के अन्य सदस्यों के बयान लिए गए। भाई दिनेश ने बताया कि सुरेश चार महीने पहले घर पर आया था और करीब एक महीने रुका था। इसके बाद राखी पर नहीं आया तो उसकी चिंता हुई। वह मोबाइल नहीं रखता और कोई एक निश्चित ठिकाना नहीं था।


जहर खाने का ड्रामा करने वाले कालू के खिलाफ हत्या में केस : सुरेश की हत्या के मामले में जिला अस्पताल में भर्ती मिस्त्री मुकेश उर्फ कालू निवासी ढाबा रोड के खिलाफ नागझिरी पुलिस ने हत्या की धारा में केस दर्ज कर लिया है। कालू की हालांकि अस्पताल से अभी छुट्टी नहीं हुई है। परिचित महिला के घर मना करने के बाद भी जाने को लेकर हुए विवाद में सुरेश ने कालू का चांटा मार दिया था इसी को बदला उसने लिया। कालू ने शराब पिलाने के बाद अंडे में जहर मिलाकर सुरेश को खिलाया था और फिर शक्करवासा ले जाकर हत्या कर दी थी। नागझिरी टीआई राममूर्ति शाक्य ने बताया मामले में जांच के बाद ही यह पता चलेगा कि आरोपी एक ही है या उससे अधिक ने षडयंत्र कर हत्या की है। 

Tags: suresh goyal murder case

Post your comment
Name
Email
Comment
 

उज्जैन संभाग

विविध