खास खबरें खाटू श्याम जन्मोत्सव आज अमृतसर ब्‍लॉस्‍ट मामले में राजनाथ सिंह ने दिऐ सख्‍त जांच के निर्देश, एनआईए की टीम पहुंची अमृतसर क्‍यों जमाल खशोगी के हत्‍या के टेप को सुनने से ट्रम्‍प को कर दिया गया मना ? विश्व महिला मुक्केबाजी के क्‍वार्टर फाइनल में पहुँची मैरीकॉम सीएम खट्टर ने दिया विवादित बयान, बोले-रिश्‍ते खराब होने पर ज्‍यादातर होते है रेप के मामले दर्ज, कांग्रेस ने कहा-माफी मांगों अयोध्‍या में कारसेवकों के साथ हुये गोलीकाण्‍ड पर बनी 'राम जन्मभूमि' का ट्रेलर रिलीज RBI बोर्ड की अहम बैठक शुरू, किन अहम मुद्दों पर होगा विचार .... राज्यपाल के जन्म दिन पर न्यू मार्केट व्यापारी संघ पुस्तकें भेंट करेगा लालू प्रसाद यादव की तबीयत हुई खराब, पैर में हआ फोड़ा, बिगड़ी हालत देवोत्‍थान एकादशी के दिन कभी न करें ये काम..

अमृतसर ब्‍लॉस्‍ट मामले में राजनाथ सिंह ने दिऐ सख्‍त जांच के निर्देश, एनआईए की टीम पहुंची अमृतसर

अमृतसर ब्‍लॉस्‍ट मामले में राजनाथ सिंह ने दिऐ सख्‍त जांच के निर्देश, एनआईए की टीम पहुंची अमृतसर

Post By : Dastak Admin on 19-Nov-2018 10:48:14

amritsar blast, nia, rajnath singh, zakir musa

 

आतंकी जाकिर मूसा और उसके साथियों के किसी बड़े वारदात की आशंका को देखते हुए हाई अलर्ट पर अमृतसर के एक गांव में धमाका हुआ है. धमाके में 3 की मौत हो गई है. वहीं पुलिस एफआईआर के मुताबिक 22 लोग घायल हुए हैं. इनमें से कई की हालत गंभीर है. इस घटना की जांच को NIA टीम रविवार देर रात अमृतसर पहुंच गई है. NIA टीम की अगुवाई मुकेश सिंह कर रहे हैं. 

इससे पहले पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि हम आतंकियों के मंसूबे को कामयाब नहीं होने देंगे. जबकि पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने कहा कि हम इसे आतंकी हमला मान रहे हैं. उन्होंने कहा कि हम इस हमले की हर एंगल से जांच कर रहे हैं.

इस बीच पंजाब पुलिस ने दो और संदिग्धों को एक पिस्तौल और तीन जिंदा कारतूसों के साथ गिरफ्तार किया है. इनको बठिंडा के संगत मंडी कस्बे से चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया. फिलहाल पुलिस दोनों संदिग्धों से पूछताछ कर रही है. मामले की जांच किसी और हमले की आशंका के एंगल से भी की जा रही है.

इस धमाके के बाद देश की राजधानी दिल्ली और नोएडा में भी अलर्ट घोषित कर दिया गया है. बता दें कि सुरक्षा एजेंसियां इन आतंकियों के दिल्ली की ओर बढ़ने की आशंका जता चुकी थी. कई घायलों को इलाज के लिए अमृतसर भेज दिया गया है.

चश्मदीदों के अनुसार बाइक सवार दो लड़कों ने अमृतसर के राजासांसी गांव में निरंकारी भवन पर ग्रेनेड फेंका. युवकों ने सत्संग के दौरान ग्रेनेड फेंका. जिस समय ग्रेनेड फेंका गया उस समय वहां करीब 250 लोग मौजूद थे. राजासांसी गांव सीमा से सटा गांव है. धमाके के बाद राजधानी दिल्ली और नोएडा की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

हमले के बाद केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से बात की है, उन्होंने हमले के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है. वहीं मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

निरंकारी समुदाय का 71वां वार्षिक समागम हरियाणा के समालखा में 24, 25, 26 नवंबर को होना है. कई सौ एकड़ फैले गए उस समागम स्थल पर तैयारियां जोरों पर हैं और वहां पर अब सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

गोपाल सिंह चावला पर शक

खुफिया एजेंसियों को निरंकारी भवन पर हुए ग्रेनेड हमले का शक गोपाल सिंह चावला पर है जो आतंकी हाफिज सईद के साथ देखा गया था. खुफिया एजेंसियों के मुताबिक चावला पंजाब में आईएसआई की मदद से धमाके करने की योजना बना रहा था. वह ऐसे ऐप्स के जरिए स्थानीय युवाओं को अपने साथ जोड़ रहा है जिसे आसानी से डिकोड न किया जा सके.

खुफिया एजेंसियों से जुड़े सूत्रों के अनुसार, इस धमाके के पीछे गोपाल सिंह चावला का हाथ हो सकता है. गोपाल सिंह चावला पाकिस्तानी सिख है और वह पाकिस्तानी शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी का पूर्व महासचिव है. उसे खालिस्तानी समर्थक माना जाता है.

घायलों का मुफ्त इलाज

दूसरी ओर, राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हमले पर दुख जताया और मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया, जबकि हमले में घायल लोगों का मुफ्त इलाज कराया जाएगा. साथ ही मुख्यमंत्री ने गृह सचिव और डीजीपी को घटनास्थल पर जाने का आदेश दिया. साथ ही हमले की निंदा करते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन को हरसंभव मदद मुहैया कराई जाएगी.

आईजी (बॉर्डर) सुरिंदर पाल सिंह परमार ने कहा कि अमृतसर के राजासांसी गांव के निरंकारी भवन में 3 लोग मारे गए हैं जबकि 10 लोग घायल हो गए. एक-दो लोगों की स्थिति गंभीर है. परमार ने निरंकारी भवन पर ग्रेनेड से हमला करने की आशंका जताई है.

अभी इस मामले के पीछे का कारणों का पता नहीं चल सका है, लेकिन पिछले दिनों सुरक्षा एजेंसियों ने पंजाब में आतंकी हमले की घटना को लेकर अलर्ट जारी किया था, जिस पर राज्य हाई अलर्ट पर था.

खुफिया ब्यूरो को ये जानकारी मिली थी कि कश्मीर में ऑपरेट करने वाला आतंकी जाकिर मूसा फिरोजपुर आया था. खुफिया ब्यूरो के पास यह भी इनपुट है कि जाकिर मूसा ग्रुप के 7 आतंकी फिरोजपुर आए थे. इन आतंकियों को अमृतसर में भी देखा गया था.

इसके बाद ही गुरदासपुर, पठानकोट और आसपास के इलाके में हाई अलर्ट कर दिया गया. गुरदासपुर में मूसा और उसके साथी आतंकियों के पोस्टर दिवारों पर चस्पां कर दिए गए हैं. आम लोगों से कहा गया है कि जैसे ही इन आतंकियों के बारे में कोई भी खबर मिले, पुलिस को बताएं.

4 दिन पहले पठानकोट में संदिग्ध आतंकी इनोबा कार छीनकर भागे थे. संदिग्धों की सीसीटीवी तस्वीरें पुलिस पूरे पंजाब में जारी कर चुकी है.

Tags: amritsar blast, nia, rajnath singh, zakir musa

Post your comment
Name
Email
Comment
 

राष्ट्रीय

विविध