खास खबरें भारत में ऐसे 500 स्थान हैं जिनमें कश्मीर जैसे हालात पीएम मोदी ने किया मतदान, मतदान करने लोगों से करी अपील श्रीलंका विस्फोट में मारे गए लोगों का सामूहिक अंतिम संस्कार एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप : गोमती ने जीता भारत के लिए पहला गोल्‍ड, शिवपाल ने जीता सिल्‍वर शूटिंग से समय निकाल संजय दत्‍त ने किया बहन प्रिया दत्‍त के लिए चुनाव प्रचार टिकट खिड़की पर टल गई सलमान और रणबीर की टक्कर सेंसेक्स 38800 के पार, निफ्टी 11640 के आसपास युवक-युवती के संबंधों से नाराज थे ग्रामीण, खेत में करंट लगाकर ले ली प्रेमी की जान महिला पत्रकार कर रही थी केंद्रीय मंत्री से ढाई करोड़ की मांग, पुलिस ने किया गिरफ्तार संकष्‍टी चतुर्थी पर ऐसे करें भगवान श्रीगणेश की पूजा

शनि, 6 सितंबर को पुष्य नक्षत्र के संयोग से होंगे मार्गी, जिससे सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देंगे।

शनि, 6 सितंबर को पुष्य नक्षत्र के संयोग से होंगे मार्गी, जिससे सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देंगे।

Post By : Dastak Admin on 04-Sep-2018 16:01:19

shanidev, 6 september

उज्जैन । नक्षत्र मेखला और ग्रह गोचर की गणना के अनुसार गुरुवार 6 सितंबर को पुष्य नक्षत्र के संयोग में शनि मार्गी होंगे। शनि के मार्गी होने का समय शाम 4.46 बजे है। नक्षत्र मेखला संचरण की गणना के अनुसार दोपहर 3.13 बजे के बाद पुष्य नक्षत्र लगेगा। ज्योतिषियों के अनुसार यह सब संयोग शुभ वातावरण बनाएंगे, जिससे सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देंगे। 
शनि वर्तमान में वक्र गति में गोचरस्थ हैं। 6 सितंबर को वे धनु राशि में मार्गी होंगे। पंण् अमर डिब्बावाला के अनुसार शनि से प्रभावित जातकों को अच्छा अनुभव होगा। विशेष तौर से शनि की महादशाए अंतरदशाए साढ़े साती से गुजर रहे जातक राहत महसूस करेंगे। शनि 18 अप्रैल को वक्री हुए थे। पांच महीने 18 दिन वक्रगति में रहने के बाद 6 सितंबर को मार्गी होने से खास तौर से कार्य में आ रही बाधाओं का निवारण होगा। सामाजिक दृष्टिकोण से भी जनसामान्य की मानसिकता बदलेगी। न्याय प्रणाली में भी परिवर्तन होगा। न्याय संगत विवाद का समाधान होगा। राजनीतिक क्षेत्र में जनजागृति आएगी। 

Tags: shanidev, 6 september

Post your comment
Name
Email
Comment
 

ज्योतिष

विविध