खास खबरें मंडी में यूरिया के लिए किसानों की लंबी कतार मध्‍यप्रदेश में आज सियासत के लिए तूफानी प्रचार, पीएम मोदी, अमित शाह, राहुल गांधी की अलग-अलग शहरों में होगी रैलियां मानव तस्‍करी की पीड़ा झेल चुके पीडि़तों को एपल देगा नौकरी महिला वर्ल्ड टी-20 : भारत ने आयरलैंड को हरा सेमीफाइनल में बनाई जगह कमलनाथ ने लिखी विकास के नाम चिट्ठी, पूछा 'तुम कहां हो ?' अंगद ने खोला राज, शादी से पहले नेहा की प्रेग्‍नेंसी की खबर सुन घर वालों ने लगाई थी जमकर डांट सेंसेक्स 100 अंक मजबूत, निफ्टी 10640 के पास 'रात-दिन मोदी-मोदी, कांग्रेस और राहुल को हुआ मोदी फोबिया' - अमित शाह राजस्‍थान : कांग्रेस की पहली सूची से नाराज कांग्रेसियों ने राहुल गांधी के घर के बाहर जमाया ढेरा, पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप गोपाष्‍टमी : गाय की पूजा से प्रसन्‍न होते है सभी देवता, मिलती है सुख-समृद्धि

उज्जैन के नागदा सीएसपी का फरमान : आपराधिक प्रवृत्ति के होते हैं रंगीन बाल वाले लोग

उज्जैन के नागदा सीएसपी का फरमान : आपराधिक प्रवृत्ति के होते हैं रंगीन बाल वाले लोग

Post By : Dastak Admin on 08-Sep-2018 10:09:05

बड़ी खबर

Ujjain @ मप्र के नागदा शहर में हुई चेन स्नेचिंग के बाद पुलिस ने बदमाशों पर शिकंजा कसने का अजीब तरीका अपनाया है। थानों को दिए आदेश में सीएसपी मनोज रत्नाकर ने कहा है विभिन्न अपराधों के अनुसंधान में यह सामने आया है कि बालों को दो रंग या अन्य किसी रंग में रंगने वाले आपराधिक प्रवृत्ति में संलिप्त होते हैं। ऐसे लोगों पर नजर रखी जाए। शहर के मुख्य पाइंट जहां लोगों की ज्यादा आवाजाही हो, ऐसे स्थानों पर वाहन चेकिंग भी होगी।

       उन्होंने कहा चेकिंग में लाइसेंस, गाड़ी के दस्तावेज के अलावा संबंधित व्यक्ति का हुलिया और बालों का कलर भी देखे जाएंगे। रंगीन बाल वाला व्यक्ति मिले तो पहले उसका फोटो खींच लें। शंका होने पर थाने लाकर पूछताछ करें। चेकिंग के दौरान पुलिस मोडिफाइड बाइक भी देखेगी। जो बाइक सवार मोडिफाइड बाइक चलाता नजर आएगा, उस पर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस के चेकिंग अभियान का उद्देश्य केवल चालानी कार्रवाई करना नहीं है। अपराधों पर अंकुश लगाना भी है। अब तक पुलिस लोगों को रोककर सिर्फ गाड़ी के दस्तावेज और लाइसेंस मांगती थी। इसमें आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति भी लाइसेंस दिखाकर निकल जाता है। सीएसपी रत्नाकर ने कहा अब चेकिंग के दौरान उसकी गाड़ी के साथ हुलिया भी आइडेंटिफाई किया जाए। बाल इसलिए चेक करें, क्योंकि गहरे रंगीन बाल केवल अपराधी या हुड़दंग की प्रवृत्ति के व्यक्ति ही कराता है। इससे अपराधी और आम व्यक्ति को आसानी से पहचाना जा सकता है।

Tags: बड़ी खबर

Post your comment
Name
Email
Comment
 

खास खबर

विविध