खास खबरें एसआई सहित 90 पुलिसकर्मियों की अदला-बदली आयुष्मान योजना : हर 12 सेकेंड में हो रहा है एक गरीब का मुफ्त इलाज शटडाउन : 'भूखे' अमेरिकियों को मुफ्त में खाना खिला रहा है टेक्सास का गुरुद्वारा कल मेलबर्न में खेला जाएगा भारत बनाम ऑस्‍ट्रेलिया तीसरा वनडे मैच BSP और SP के गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल भी शामिल, इस तरह हुआ सीटों का बंटवारा सरेआम हुई दीपक कलाल की पिटाई, राखी सावंत ने किया था शादी का ऐलान वर्ल्ड रैंक में भारत की 49 यूनिवर्सिटी ने बनाई जगह, यहॉं देखे सूची एप्टीट्यूड टेस्ट दो पारी और पात्रता परीक्षा एक पारी में होगी सबसे बड़े स्‍लम धारावी के आएंगे अच्‍छे दिन, 70 हजार परिवारों को मिलेगा पक्‍का घर पौष मास की पुत्रदा एकादशी का व्रत रखने से मिलता है संतान प्राप्ति का वरदान

शटडाउन : 'भूखे' अमेरिकियों को मुफ्त में खाना खिला रहा है टेक्सास का गुरुद्वारा

शटडाउन : 'भूखे' अमेरिकियों को मुफ्त में खाना खिला रहा है टेक्सास का गुरुद्वारा

Post By : Dastak Admin on 17-Jan-2019 11:59:12

Shutdown, America

वॉशिंगटन। अमेरिका में जारी शटडाउन की वजह से लाखों कर्मचारियों को घर बैठने पर मजबूर होना पड़ा है, जो बीते चौथे हफ्ते से जारी है। वहीं, आपातकालीन सेवा के कर्मचारी बिना वेतन के काम करने को मजबूर हो गए हैं। इसके चलते अब तक 8 लाख से ज्यादा कर्मचारी बगैर वेतन के काम से बाहर कर दिया गया है। ऐसी खराब स्थिति एक बार फिर भारतीय सिख समुदाय अमेरिकी लोगों की मदद को आगे आया है।
टेक्सास के सैन एंटोनियो में सिख समुदाय ने सरकारी कर्मचारियों के लिए मुफ्त भोजन की पेशकश की है। सभी कर्मचारियों को सिख समुदाय ने 11 जनवरी से तीन दिनों तक शाकाहारी भोजन कराया है। सिख समुदाय के कार्यकर्ताओं ने गुरुद्वारे में मेनू तैयार किया, जिसमें दाल, सब्जियां, चावल और मैक्सिकन ब्रेड शामिल थे।
शुक्रवार को एक फेसबुक पोस्ट कर शटडाउन से प्रभावित कर्मचारी और उनके परिवार को छुट्टी के दौरान भोजन के लिए सिख सेंटर में आमंत्रित किया गया। सिख समुदाय की इस मुहिम के बाद कई लोगों ने गुरुद्वारे में आने वाले लोगों को खाना खिलाने और खाना पकाने की पेशकश की।
सैन एंटोनियो सिख सेंटर के अध्यक्ष बलविंदर ढिल्लन ने कहा कि जिन सरकारी कर्मचारियों को अभी तक वेतन नहीं मिला है, सिख समुदाय उन सभी की मदद करेगा। साथ ही सिख समुदाय उनकी राष्ट्रभक्ति, सेवाओं की सराहना करता है और उन पुरुषों व महिलाओं के प्रति आभार व्यक्त करता है।
बताते चलें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मैक्सिको से लगी सीमा पर दीवार बनाने के लिए करीब 40 हजार करोड़ रुपए के बजट की मांग की थी। विपक्षी दल डेमोक्रेटिक पार्टी ने इसका विरोध किया और खींचतान के बाद 22 दिसंबर से शटडाउन शुरू हो गया था। बताया जा रहा है कि यह अमेरिका के इतिहास का सबसे बड़ा शटडाउन है। इससे पहले 1995 में भी 16 दिसंबर से 6 जनवरी 1996 के बीच 21 दिन तक सरकारी काम ठप रहा था।

Tags: Shutdown, America

Post your comment
Name
Email
Comment
 

अंतरराष्ट्रीय

विविध