खास खबरें माहौल बिगाड़ने वालों के विरूद्ध होगी रासुका की कार्रवाई तीन तलाक अध्यादेश को मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी, कानून मंत्री ने की पुष्टि ईलाज के बहाने पत्नि को भेजा भारत, फिर वाट्सएप पर दे दिया तलाक एशिया कप में आज भारत-पाक का होगा आमना-सामना नीतीश-मोदी के खिलाफ राहुल-तेजस्‍वी करेंगे 'MY+BB' फॉर्मूले पर काम मैडम तुसाद में नजर आएंगी सनी लियोन निफ्टी 11300 के ऊपर, सेंसेक्स 100 अंक मजबूत पत्रकारों के लिये स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा की राशि बढ़कर 4 लाख हुई दिल्‍ली : 7 साल की मासूम के साथ हुई हैवानियत, आरोपी ने प्राइवेट पार्ट में डाला प्‍लास्टिक का पाइप क्‍यों मनाई जाती है तेजा दशमी, कौन थे तेजाजी महाराज ?

स्वर्ण परी सौम्या अग्रवाल का नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज

स्वर्ण परी सौम्या अग्रवाल का नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज

Post By : Dastak Admin on 31-Aug-2018 09:00:37

swarna pari somaya, golden book of records

 

एकलव्य अवार्डी सौम्या ने एक मिनिट में 170 रोप कर बनाया रिकॉर्ड-2016 में गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराया था अपना नाम

उज्जैन। अंतरराष्ट्रीय जम्प रोप खिलाड़ी एकलव्य अवार्डी सौम्या अग्रवाल ने जम्प रोप (डबल अंडर रोप) में एक मिनिट में 170 रोप करके वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया। वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड की ओर से सुरभी कौर द्वारा डिक्लेयर कर प्रमाण पत्र सौंपा गया। दो वर्ष पूर्व 1 फरवरी 2016 को सौम्या जम्प रोप में अपना नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करा चुकी हैं। 

कोच मुकुंद झाला के अनुसार सेंट मेरी स्कूल में गुरूवार को पूर्व निगम अध्यक्ष प्रकाश चित्तौड़ा, आशीष मिश्रा, गोपाल माहेश्वरी, संजय ज्ञानी, गोविंद शर्मा, विभाष उपाध्याय, संजय अग्रवाल एवं स्कूल प्राचार्य सिस्टर रोशन एवं 850 विद्यार्थियों की मौजूदगी में रिकॉर्ड कायम किया गया। इस अवसर पर म.प्र. जम्प रोप के सचिव अबरार अहमद शेख, ऑल इंडिया सेक्रेटरी सुनिता जोशी, उज्जैन जिला जम्प रोप की ओर से समस्त खिलाड़ियों एवं प्रशिक्षक मुकुंद झाला ने बधाई दी। 

16 साल की उम्र में 41 गोल्ड मेडल जीत चुकी

व्यवसायी शिव अग्रवाल की पुत्री 16 वर्षीय सौम्या अग्रवाल कक्षा 11वीं की छात्रा है। 2016 में सौम्या अग्रवाल को मध्यप्रदेश खेल अलंकरण एकलव्य पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। सौम्या ने अब तक 41 गोल्ड, 7 सिल्वर एवं 5 कांस्य पदक जीते है जिसमें अंतरराष्ट्रीय चैम्पियनशिप पेरिस, पुर्तगाल में 5 गोल्ड, 4 सिल्वर एवं 5 कास्य पदक एवं साउटा एशियन चैम्पियनशिप नेपाल भूटान में 5 गोल्ड मेडल, नेशनल चैम्पियनशिप में 19 गोल्ड, 3 सिल्वर पदक और डिस्ट्रिक्ट में 1 गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। सौम्या खेल गतिविधियों के साथ शिक्षा में भी अव्वल रही हैं। कक्षा 10 में 78 प्रतिशत अंक अर्जित कर उन्होंने 11वीं कक्षा में प्रवेश किया है। लगातार गोल्ड मेडल जीतने के कारण सौम्या को स्वर्ण परी के नाम से भी पुकारा जाने लगा है।

Tags: swarna pari somaya, golden book of records

Post your comment
Name
Email
Comment
 

उज्जैन की प्रतिभा

विविध