खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज रेवाड़ी गैंगरेप काण्‍ड के दो अन्‍य आरोपी SIT की गिरफ्त में राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश खेल मंत्रालय ने दी सफाई, विराट कोहली को क्‍यों चुना गया 'खेल रत्‍न' के लिए समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर आंध्रप्रदेश : नक्‍सलियों ने की टीडीपी के विधायक और पूर्व विधायक की हत्‍या क्‍यों मनाई जाती है अनंत चतुदर्शी, क्‍या है अंनतसूत्र का महत्‍व

राज्य स्तरीय विज्ञान सेमिनार में उज्जैन के छात्र अक्षत को मिला पहला स्थान

राज्य स्तरीय विज्ञान सेमिनार में उज्जैन के छात्र अक्षत को मिला पहला स्थान

Post By : Dastak Admin on 03-Sep-2018 12:53:26

first possition,ujjain , akshat

नेहरु विज्ञान केंद्र मुंबई एवं राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय कोलकाता द्वारा जबलपुर में आयोजित हुए राज्य स्तरीय विज्ञान सेमिनार में उज्जैन के छात्र प्रदेश के अन्य विद्यार्थियों से आगे रहे हैं। सेमिनार में उज्जैन के छात्र अक्षत जोशी को पहला आैर युवराज सिंह को दूसरा स्थान मिला है। 
राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान जबलपुर में 31 अगस्त को राज्य स्तरीय विज्ञान सेमिनार में आैद्योगिक क्रांति-4, क्या हम तैयार हैं? विषय पर शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माधवनगर के शिक्षक डॉ. योगेंद्र कुमार कोठारी के मार्गदर्शन में उत्कृष्ट विद्यालय के छात्र अक्षत जोशी आैर युवराज सिंह ने आलेख प्रस्तुत किए थे। सेमिनार का मूल्यांकन डॉ. प्रवीण पाध्ये, आईआईटी जबलपुर की डॉ. निहार जेना आैर योगेश गनोरे ने किया। सेमिनार में अक्षत को पहला स्थान मिला। उसे ट्रॉफी आैर प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। दूसरे स्थान पर युवराज सिंह रहे। संस्थान के संचालक डॉ. दिनेश अवस्थी ने दोनों छात्रों आैर मार्गदर्शी शिक्षक डॉ. कोठारी को पुरस्कृत किया। जबलपुर आैर रीवा के विद्यार्थियों को क्रमश: तीसरा व चौथा स्थान मिला। छात्रों ने आैद्योगिक क्रांति के अंतर्गत बताया कि आैद्योगिक क्रांति 1, 2, 3 आैर 4 किस प्रकार आई। आैद्योगिक क्रांति-4 में साइबर सिक्युरिटी, क्लाउड कंप्यूटिंग, नेट बैंकिंग, बिग डेटा एनालिसिस, डिजिटल इंडिया आदि के उपयोग आैर स्मार्ट, क्लीन टेक्नोलॉजी के बारे में बताया। उत्कृष्ट विद्यालय प्राचार्य भरत व्यास एवं डॉ. कोठारी ने बताया चयनित प्रतिभागी एवं मार्गदर्शी शिक्षक 5 अक्टूबर को विश्वैश्वरैया आैद्योगिकी एवं तकनीकी म्यूजियम में सहभागिता कर मध्यप्रदेश का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

Tags: first possition,ujjain , akshat

Post your comment
Name
Email
Comment
 

उज्जैन की प्रतिभा

विविध