खास खबरें बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम से 24-25 को बारिश के आसार जेट की फ्लाइट में कैबिन प्रेशर कम हुआ, यात्रियों के नाक-कान में आने लगा खून खाने से डर रहे है लोग, फलों में निकली रही है सुईयॉं एशिया कप : भारत ने पाकिस्‍तान को मात, 8 विकेट से रौंदा भोपाल में भाजपा कार्यकर्ता के महाकुंभ में आएंगे पीएम मोदी बेटी पूजा-आलिया के साथ महेश भट्ट फिर से बनाएंगे फिल्‍म 'सड़क' अब नौकरी जाने पर सरकार देगी पैसा, सीधे आऐगा आपके बैंक खाते में धान के समर्थन मूल्य पर इस वर्ष भी दिया जायेगा बोनस : मुख्यमंत्री श्री चौहान यूपी में दिमागी बुखार ने ली अब 71 जानें क्‍यों मनाया जाता है मोहर्रम, रमजान के बाद दूसरा सबसे पाक महीना

एससी-एसटी एक्ट का विरोध में इंदौर में आज बाजार बंद, सुरक्षा के भारी इंतजाम

एससी-एसटी एक्ट का विरोध में इंदौर में आज बाजार बंद, सुरक्षा के भारी इंतजाम

Post By : Dastak Admin on 06-Sep-2018 10:47:29

bharat band

 

इंदौर. एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में सवर्ण वर्ग के आंदोलन ने तूल पकड़ लिया है। गुरुवार को देशव्यापी बंद के ऐलान के बीच मप्र के 35 से अधिक जिलों में पुलिस को हाईअलर्ट कर दिया गया है। इंदौर में बंद के समर्थन में पेट्रोल पंप, सहित सभी बाजार बंद हैं। हालात से निपटने के लिए पुलिस हर चौराहे पर तैनात है। संवेदनशील जिलों को पुलिस मुख्यालय ने अतिरिक्त फोर्स के तौर पर सशस्त्र पुलिस बल की 34 कंपनियां और 5000 प्रशिक्षित जवान उपलब्ध कराए हैं। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर भेजी गई फोर्स को भी जिलों में ही रहने के निर्देश दिए गए हैं। पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू कर दी गई है।

एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ अहिल्या चेंबर ऑफ कामर्स ने भी अपना समर्थन दिया है। अध्यक्ष रमेश खंडेलवाल ने बताया कि अहिल्या चेंबर के अंतर्गत आने वाले सभी व्यापारिक संगठन और उद्योग दोपहर 2 बजे तक बंद रखे गए हैं। इसी तरह बंद को इंदौर अनाज तिलहन व्यापारी संघ ने भी समर्थन दिया है, जिसके तहत कृषि उपज मंडी, छावनी और संयोगितागंज मंडी पूरे दिन बंद रहेगी। वहीं दवा बाजार भी दोपहर 2 बजे तक बंद रहेगा। सीबीएसई स्कूलों की भी छुट्‌टी कर दी गई है।

40 से अधिक संगठनों का भी समर्थन
सपाक्स समाज इंदौर इकाई के अध्यक्ष जगदीश जोशी व कार्यकारी अध्यक्ष सतीश शर्मा ने बताया कि भारत बंद के आव्हान के समर्थन में सपाक्स समाज द्वारा उठाए गए कदमों में शहर के 40 से अधिक समाजों व सभी प्रमुख व्यापारी संगठनों ने इस आंदोलन को अपना समर्थन दिया है। सभी व्यापारी सुबह रैली के रूप में निकले और कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। इंदौर में अब तक बंद पूरी तरह शांतिपूर्ण और स्वैच्छिक है। बंद से सभी आवश्यक सेवाओं, स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल आदि को मुक्त रखा गया है।

भिंड-मुरैना में धारा 144 के बाद भी रैली
मुरैना-भिंड में धारा 144 प्रभावी होने के बावजूद रैलियां निकालकर सवर्ण संगठनों ने बंद के लिए समर्थन मांगा। मुरैना में लोग हाथों में फूल आैर चूड़ियां लेकर बाजारों में निकले। श्योपुर, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी के प्राइवेट बस ऑपरेटरों ने बसों का संचालन नहीं करने का फैसला लिया है। राजगढ़ कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने धारा 144 लगा दी है। साथ ही प्रशासन ने यह भी साफ कर दिया है कि अगर कोई सरकारी कर्मचारी बंद में शामिल होता है तो उसके खिलाफ ब्रेक इन सर्विस की कार्रवाई की जाएगी। छुट्टी भी रद्द कर दी गई है।

नाराज संगठनों से बातचीत जारी, शांतिपूर्ण बंद की अपील
इंटेलीजेंस आईजी मकरंद देउस्कर के अनुसार कलेक्टर-एसपी करणी सेना और सभी सवर्ण समाज के संगठनों से चर्चा कर रहे हैं। प्रदेश स्तर से धारा 144 के संबंध में निर्देश हैं। जिलों में कलेक्टर इसे लागू करेंगे। सवर्ण समाज के संगठनों द्वारा सोशल मीडिया पर बंद पूरी तरह शांतिपूर्वक करने का एेलान किया गया है। चंबल, ग्वालियर, उज्जैन, जबलपुर, रीवा आदि संभागों में काले झंडे दिखाए जाने की घटनाओं को देखते हुए इन्हें संवेदनशील श्रेणी में रखा गया है। इंटरनेट सेवा को लेकर शासन ने तय किया है कि संवेदनशील स्थानों पर यह सेवा स्थगित रहेगी।

मप्र की शांति को किसी की नजर न लगे : शिवराज
मध्यप्रदेश शांति का टापू है। यह फले-फुले और आगे बढ़े यही सबसे प्रार्थना है। मैं सबके लिए हूं। आप सबसे प्रार्थना है कि मिल कर व प्रेम से काम करे। कोई बात है तो शांति से कहें, ताकि अपने प्रदेश की कानून व्यवस्था न बिगड़े। 

Tags: bharat band

Post your comment
Name
Email
Comment
 

इंदौर

विविध