खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज सीबीएसई ने दी बच्‍चों और अभिभावकों को 'मोमो चैलेंज' से दूर रहने की चेतावनी राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश एशिया कप : रोहित-धवन ने जमाया शतक, पाकिस्‍तान पर 9 विकेट से भारत की धमाकेदार जीत समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर बिहार के मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर समीर कुमार की कार में गोलियां से भून कर हत्‍या आज से शुरू होगा, पितृों का पूजन-तर्पण, पूर्णिमा का होगा पहला श्राद्ध

पूर्व जन्‍म में थे भाई-बहन, एक्‍सीडेंट में मौत हो गई, इस जन्‍म में वापस ले जाने आये

पूर्व जन्‍म में थे भाई-बहन, एक्‍सीडेंट में मौत हो गई, इस जन्‍म में वापस ले जाने आये

Post By : Dastak Admin on 09-Sep-2018 11:35:36

purvjanma, accident


इंदौर। तिलक नगर पुलिस ने शनिवार दोपहर एक शिक्षिका और सिपाही को हिरासत में लिया है। वह इंजीनियरिंग छात्रा से मिलने की जिद कर रही थी। शिक्षिका छात्रा को कभी पूर्व जन्म की पत्नी तो कभी बहन बता रही है। छात्रा के परिजन का आरोप है कि दोनों अपहरण करने आए थे। लोगों ने उन्हें पकड़ लिया और पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक, घटना दोपहर करीब 12 बजे की है। डायल-100 की टीम ने चौहान नगर से 35 वर्षीय वेरोनिका और सिपाही आनंद मुंढे को हिरासत में लिया। वेरोनिका मैकेनिकल इंजीनियर दिनेश के घर में घुस गई और बेटी (इंजीनियरिंग छात्रा) से मिलने की जिद करने लगी। उसने छात्रा के परिजन से कहा कि छात्रा और वह पूर्व जन्म में पति-पत्नी थे। उनकी सड़क हादसे में मौत हो गई थी। वह उसके साथ रहना चाहती है। छात्रा घबरा गई और कमरे में छिप गई। वेरोनिका ने छात्रा की बीमार मां के पैर पकड़े और मिलने की गुहार करने लगी। इसी बीच पड़ोस में रहने वाली छात्रा की बहन ने मामा और पुलिस को कॉल कर दिया। आवाज सुनकर लोग भी एकत्रित हो गए।

चार महीने से कॉल, मैसेज और पत्र भेज रही थी शिक्षिका
छात्रा के मामा के मुताबिक, बहन कैंसर से पीड़ित है। चार महीने पूर्व भानजी टाटा अस्पताल (मुंबई) लेकर गई थी। परिसर में टहलते वक्त वेरोनिका से मुलाकात हुई। उसने भानजी से मोबाइल नंबर ले लिए। कुछ दिन बाद वह कॉल करने लगी। उसने कहा कि हमारा पूर्व जन्म का रिश्ता है। पहले वह भाई-बहन बताने लगी। फिर कहा पति-पत्नी भी रहे हैं। वह भानजी को मुंबई बुलाने लगी। उसने रुपए और फ्लाइट की टिकट का लालच दिया। परिजन घबरा गए और भानजी का मोबाइल बंद करवा दिया। वेरोनिका ने भानजी के पिता, भाई, मां व बहन को कॉल करना शुरू कर दिया। चार महीने में हजारों बार कॉल और मैसेज किए। नंबर ब्लॉक करने पर करीब 20 सिम बदल ली। उसने वाट्सएप पर पत्र भी भेजे। दो महीने पूर्व थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने कार्रवाई से इनकार कर दिया।

गोवा में जन्मे, एक्सीडेंट में हुई मौत
एसआई के मुताबिक सिपाही आनंद मुंबई पुलिस में पदस्थ है। वेरोनिका ट्यूशन पढ़ाती है। उसने बयानों में बताया कि पूर्व जन्म में छात्रा और वह भाई-बहन थे। उसका नाम प्रिंस और छात्रा का सोनिया था। दोनों गोवा में जन्मे थे। उनकी एक्सीडेंट में मौत हुई है। वह बहन से मिलने आई थी। उसके माता-पिता के चरण स्पर्श करना चाहती थी। एसआई के मुताबिक, सिपाही ने पूछताछ में बताया कि वेरोनिका से उसके पारिवारिक संबंध हैं। उसने कहा था कि बहन से मिलने जाना है। दोनों सुबह की फ्लाइट से इंदौर आए। उनके पास शाम की फ्लाइट के टिकट मिले हैं। वेरोनिका के पति को घटना का पता नहीं है। पुलिस ने कॉल किया तो उसने बताया कि वह सुबह ड्यूटी पर चला गया था। उसने पूर्व जन्म के किस्से सुनाए थे। वह इंदौर आई इसकी जानकारी उसे नहीं है। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है।

Tags: purvjanma, accident

Post your comment
Name
Email
Comment
 

इंदौर

विविध