खास खबरें 2011 में की थी शहर में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा की मांग विदेश मंत्रालय की निगरानी में आयोजित होगा प्रवासी भारतीय में 'स्‍पेशल 65' संग भोज, पीएम मोदी करेंगे शिरकत सीरिया में पड़ रही मौसम की मार, कड़ाके की ठण्‍ड से 15 बच्‍चों की मौत मनु साहनी बने आईसीसी के नए सीईओ सांसद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के अपनी ही पार्टी के लिए बगावती बोल, कहा- पार्टी में अब 'तानाशाही' सरेआम हुई दीपक कलाल की पिटाई, राखी सावंत ने किया था शादी का ऐलान फिर बढ़े तेल के दाम, पेट्रोल आज हुआ इतना महंगा मीजल्स की बीमारी को जड़ से खत्म करना जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा गुजरात : गांधीनगर में आज पीएम मोदी सहित मेगा ट्रेड शो में हिस्‍सा लेंगे 125 देशों के प्रतिनिधि और दिग्‍गज उद्योगपति पौष मास की पुत्रदा एकादशी का व्रत रखने से मिलता है संतान प्राप्ति का वरदान

पात्र सजायाफ्त बंदियों को सजा में 30 दिनों की माफी दी जाएगी : मुख्यमंत्री श्री चौहान

पात्र सजायाफ्त बंदियों को सजा में 30 दिनों की माफी दी जाएगी : मुख्यमंत्री श्री चौहान

Post By : Dastak Admin on 04-Sep-2018 09:36:28

janamashtami mahotsav in central jail

 

बंदियों के पारिश्रमिक में 10 रुपये प्रति दिन की वृद्धि की जाएगी 
मुख्यमंत्री द्वारा इंदौर, सागर में खुली जेलों का लोकार्पण
भोपाल केन्द्रीय जेल में मनाया गया श्रीकृष्ण जन्मोत्सव 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर प्रदेश की जेलों में बंद पात्र सजायाफ्ता बंदियों को सजा में 30 दिन की माफी देने की घोषणा की। उन्होने जेलों में महिला बंदियों को दैनिक उपयोग में लगने वाली वस्तुओं जैसे बिन्दी, चूड़ी, सिन्दूर, हेयरबैंड एवं पुरूष बंदियों के लिये टूथपेस्ट, ब्रश, सेविंग सामग्री प्रदान करने के विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दी। श्री चौहान आज यहां केन्द्रीय जेल भोपाल में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इंदौर और सागर में खुली जेलों का ई-लोकार्पण किया।

श्री चौहान ने कहा कि दंडित बंदियों के कौशल उन्नयन के लिये कार्य के बदले प्रति दिन प्राप्त होने वाली पारिश्रमिक राशि कुशल बंदियों को 110 रूपये से बढ़ाकर 120 रूपये प्रति दिन एवं अकुशल बंदियों को 62 रूपये से बढ़ाकर 72 रूपये प्रति दिन की जायेगी। पारिश्रमिक दर में नियमित वृद्धि के लिये इसे मूल्य सूचकांक से भी जोड़ा जायेगा।

श्री चौहान ने कहा कि शासन जेल विभाग को पूरा सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि आदर्श स्थिति तब बनेगी, जब अपराध मुक्त समाज का निर्माण होगा और जेलों की संख्या कम होती जायेगी। उन्होंने कहा कि व्यक्ति आदतन अपराधी नहीं होता। विषम परिस्थितियों और स्वभावगत विकारों के कारण अपराध हो जाता है। हर व्यक्ति में चाहे, वह कैदी ही क्यों न हो, एक सृजनात्मक व्यक्तित्व छुपा होता है, कलाकार छुपा होता है। सृजनात्मक क्षमताओं को अभिव्यक्त करने के लिये आवश्यक वातावरण का निर्माण करना होगा। कैदी जब अपनी सजा पूरी करें, तो जिम्मेदार नागरिक के रूप में समाज में वापस लौटें।

केन्द्रीय जेल भोपाल में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी धूमधाम से मनाई गई। बंदियों ने श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की जोरदार तैयारियां की थीं। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का दृश्य मंच पर साकार हो उठा। मुख्यमंत्री, उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान, सहकारिता मंत्री श्री विश्वास सारंग, जेल मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य जन्मोत्सव में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री को केन्द्रीय जेल भोपाल परिसर में आगमन पर सशस्त्र गार्ड ने सलामी दी। बंदियों की भजन मंडली ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की झाँकी का अवलोकन किया। भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं पर भजन गायन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। पुलिस महानिदेशक जेल श्री संजय चौधरी ने प्रदेश में जेल सुधारों की जानकारी दी। अपर मुख्य सचिव जेल विभाग श्री विनोद सेमवाल ने आभार प्रदर्शन किया।

श्री राधा कृष्ण मंदिर में किये दर्शन

इससे पहले मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्थानीय बरखेड़ी स्थित अहीर मोहल्ला में श्री राधा कृष्ण मंदिर पहुँच कर दर्शन किये। इस मौके पर भोपाल सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अखिल भारतीय किरार महासभा की अध्यक्ष और मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह, विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह और श्री भगवानदास सबनानी उपस्थित थे।

 

ए.एस

Tags: janamashtami mahotsav in central jail

Post your comment
Name
Email
Comment
 

मध्य प्रदेश विशेष

विविध