खास खबरें दक्षिण ग्रामीण कार्यालय के शुभारंभ पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने ग्रहण की कांग्रेस की सदस्यता विदेशी फंडिंग से घाटी में तैयार हो रहे है आतंकी - सेना प्रमुख दुनिया का सबसे बड़ा कम्‍प्‍यूटर करेगा इंसानी दिमाग जैसा काम, 1 सेकण्‍ड में 20 हजार करोड़ से ज्‍यादा कमाण्‍ड कर सकता है फॉलो बॉक्सिंग के खिलाडि़यों को दिल्‍ली की हवा में हो रही सांस लेने में दिक्‍कत तेलंगाना में कांग्रेस की पहली सूची जारी, 65 प्रत्‍याशियों के नाम शामिल सुपरहीरो हल्‍क, स्‍पाइडरमैन का किरदार बनाने वाले स्‍टेली का निधन निफ्टी 10460 के पास, सेंसेक्स 95 अंक कमजोर आचार संहिता के 35 दिनों में अब-तक लगभग 50 करोड़ की सामग्री और नगदी जब्त : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का आज बेंगलुरू में राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम संस्‍कार छठ पूजा : संतान प्राप्ति और उनकी मंगल कामना के लिए करते है सूर्य की उपासना

सीएम के बेटे की दुकान बंद कराने पहुँचे कांग्रेसी

सीएम के बेटे की दुकान बंद कराने पहुँचे कांग्रेसी

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 10:05:39

bharat band


भोपाल. भारत बंद के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पुत्र कार्तिकेय की दुकान बंद कराने बिट्टन मार्केट पहुंचे। यहां कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया और बंद करने की मांग की। मौके पर पहुंची पुलिस की कांग्रेसियों से नोकझोंक हुई, पुलिस ने उन्हें वहां से हटाया। फिलहाल दुकान के आस-पास भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिसकर्मियों ने चारों तरफ से दुकान को घेर रखा है, ताकि कोई भी कांग्रेसी अंदर ना घुस सके या तोड़फोड़ करें। हालांकि कांग्रेसी भी दुकान के आसपास ही घूम रहे हैं। शहर में अन्य जगहों से भी दुकानें जबरन बंद कराने की खबरें आ रही हैं। 

शहर में भारत बंद का असल साफ देखा जा सकता है। कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी और डॉलर के मुकाबले रुपए की गिरती कीमतों को लेकर सोमवार को भारत बंद का ऐलान किया है। कांग्रेस के बंद को लेकर प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि कांग्रेस के गुंडे जबरन बंद कराकर आम जनता को परेशान कर रहे हैं। उज्जैन में चिमनगंज मंडी के सामने पेट्रोल पंप पर कांग्रेसियों द्वारा तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने जब उन्हें रोका तो दोनों के बीच जमकर झूमाझटकी होने लगी। इस दौरान कांग्रेस का एक कार्यकर्ता घायल हो गया। सागर में भी पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की झड़प हुई है। 

 कांग्रेस का दावा 21 दलों ने बंद का समर्थन दिया : नए भोपाल में इसका असर नजर नहीं आ रहा है, वहीं पुराने भोपाल में दुकाने बंद हैं। कांग्रेस का दावा है कि 21 दलों ने बंद को समर्थन दिया है। मप्र में भी व्यापारियों और आम जनता से अपने प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की गई है। दोपहर 3 बजे तक लोगों से सहयोग मांगा गया है। बंद को लेकर शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भोपाल में मार्च निकाला था। वहीं कमलनाथ भी व्यापारियों के साथ बैठक कर बंद की रणनीति बनाई थी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ की सोमवार को मुरैना में सभा है। इसलिए वहां कांग्रेस ने बंद वापस लिया है। मुरैना में ही कमलनाथ के पोस्टर पर कालिख फेंकी गई है। 

Tags: bharat band

Post your comment
Name
Email
Comment
 

भोपाल संभाग

विविध