खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज रेवाड़ी गैंगरेप काण्‍ड के दो अन्‍य आरोपी SIT की गिरफ्त में राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश खेल मंत्रालय ने दी सफाई, विराट कोहली को क्‍यों चुना गया 'खेल रत्‍न' के लिए समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर आंध्रप्रदेश : नक्‍सलियों ने की टीडीपी के विधायक और पूर्व विधायक की हत्‍या क्‍यों मनाई जाती है अनंत चतुदर्शी, क्‍या है अंनतसूत्र का महत्‍व

अन्त्योदय मेले तथा लोक कल्याण शिविरों में सभी विभागों के जिला प्रमुख आवश्यक रूप से भाग ले-कलेक्टर श्री सिंह

अन्त्योदय मेले तथा लोक कल्याण शिविरों में सभी विभागों के जिला प्रमुख आवश्यक रूप से भाग ले-कलेक्टर श्री सिंह

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 22:21:02

lok kalyan shivir

 

धार | जिले में विकासखण्ड मुख्यालयों पर आयोजित अन्त्योदय मेले तथा लोक कल्याण शिविरों में समस्त विभागों के जिला प्रमुख आवश्यक रूप से भाग ले। साथ ही अपने अधीनस्थ अधिकारी, कर्मचारी को भी इन मेलों तथा षिविरों में भाग लेने के लिए निर्देशित करे। जिससे इन मेलों तथा लोक कल्याण शिविरों में आने वाले ग्रामीणों को इस सुविधा का लाभ मिल सके। इन मेलों तथा शिविरों में अधिकारी भाग नही लेंगे तो उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जावेंगी। यह निर्देश कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने बुधवार को यहॉं जिला पंचायत सभाकक्ष में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में दिए।
   श्री सिंह ने आयुष विभाग द्वारा सरदार सरोवर डूब क्षेत्र के पुनर्वास स्थलों पर आयोजित शिविरों की प्रगति की जानकारी ली और इन पुनर्वास स्थलों पर पुनः शिविर आयोजित किए जाने तथा इन शिविरों के साथ स्वास्थ्य विभाग के शिविर भी रखे जाने के निर्देश दिए। साथ ही नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के भू-अर्जन अधिकारियों को भी समन्वय स्थापित कर इन शिविरों को सफल बनाने के लिए निर्देश दिए।
   श्री सिंह ने इस बैठक में शासन के विभिन्न विभागों तथा मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त पत्रों की विभागवार जानकारी प्राप्त की और अधिकारियों द्वारा इन प्रकरणों के निराकरण में रूचि नही लेने पर प्रशन्नता व्यक्त करते हुए निर्देश दिए है कि इन प्रकरणों का आगामी एक सप्ताह में हर हालत में निराकरण की कार्रवाई सुनिश्चित करे, अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जावेगी। 
   श्री सिंह ने मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतो की विभागवार विस्तार से समीक्षा की और शिकायतकर्ताओं से चर्चा कर समस्याओं का त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने उप संचालक कृषि को निर्देश दिए है कि वे मुख्यमंत्री हेल्पलाईन के पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों को गंभीरता से लेकर किसानों की समस्याओं का आगामी एक सप्ताह में समाधान सुनिश्चित करे। श्री सिंह ने इस बैठक में गत वर्ष में गेहूं उपार्जन का बोनस, प्रोत्साहन राशि के भुगतान के संबंध में मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पर दर्ज शिकायतों की भी समीक्षा की।
   कलेक्टर श्री सिंह ने लोक निर्माण विभाग, एमपीआरडीसी तथा अन्य सड़क निर्माण एजेन्सियों को निर्देश दिए है कि वे इस बात का विशेष ध्यान रखे कि सड़क निर्माण करते समय पानी की निकाली हो, ताकि खेतों में वर्षा का पानी न भर सके। उन्होने प्राकृतिक आपदा के अंतर्गत आर्थिक सहायता के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की और लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होने मध्यप्रदेश लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अंतर्गत ‘‘समाधान एक दिवस’’ के क्रियान्वयन की समीक्षा की। इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी धरमपुरी के अनुपस्थित रहने पर नाराजगी व्यक्त की तथा उनके खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित करने के निर्देश दिए। उन्होने डही के बी.ई.ओ. तथा बी.आर.सी. को समाधान एक दिवस के अंतर्गत प्रकरणों का निराकरण समय पर नही करने पर शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होने आधार सीडिंग के कार्य की प्रगति की समीक्षा की और आधार सीडिंग का कार्य संतोषप्रद नही पाये जाने पर खाद्य निरीक्षकों तथा सहकारिता विभाग के मैदानी अमले की 3-3 वेतनवृद्धि रोकने के लिए शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होने विभिन्न विभागों में आगामी 6 माह में सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों के पेंशन प्रकरणों की जानकारी ली और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। 
   इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री आर.के. चौधरी, अपर कलेक्टर श्री दिलीप कापसे, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के भू-अर्जन अधिकारी श्रीमती रंजना मुजाल्दे, श्री अजित श्रीवास्तव, डिप्टी कलेक्टर सुश्री दिव्या पटेल, सुश्री नेहा साहू, सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Tags: lok kalyan shivir

Post your comment
Name
Email
Comment
 

धार

विविध