खास खबरें माहौल बिगाड़ने वालों के विरूद्ध होगी रासुका की कार्रवाई तीन तलाक अध्यादेश को मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी, कानून मंत्री ने की पुष्टि ईलाज के बहाने पत्नि को भेजा भारत, फिर वाट्सएप पर दे दिया तलाक एशिया कप में आज भारत-पाक का होगा आमना-सामना नीतीश-मोदी के खिलाफ राहुल-तेजस्‍वी करेंगे 'MY+BB' फॉर्मूले पर काम मैडम तुसाद में नजर आएंगी सनी लियोन निफ्टी 11300 के ऊपर, सेंसेक्स 100 अंक मजबूत पत्रकारों के लिये स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा की राशि बढ़कर 4 लाख हुई दिल्‍ली : 7 साल की मासूम के साथ हुई हैवानियत, आरोपी ने प्राइवेट पार्ट में डाला प्‍लास्टिक का पाइप क्‍यों मनाई जाती है तेजा दशमी, कौन थे तेजाजी महाराज ?

मुख्यमंत्री ने 2050 करोड़ 70 लाख रूपए की सिंचाई योजना का किया भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री ने 2050 करोड़ 70 लाख रूपए की सिंचाई योजना का किया भूमि-पूजन

Post By : Dastak Admin on 07-Sep-2018 23:53:08

नर्मदा झाबुआ पेटलावद उद्वहन परियोजना


पाइप लाइन के माध्यम से झाबुआ, पेटलावद, थांदला, मेघनगर, सरदारपुर आयेगी नर्मदा 
झाबुआ |  प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज झाबुआ जिले के पेटलावद पहुंचकर पेटलावद मे उत्कृष्ट विद्यालय प्रांगण मे आयोजित कार्यक्रम मे 2050 करोड 70 लाख रूपए की लागत की नर्मदा झाबुआ पेटलावद उद्वहन परियोजना का भूमि पूजन किया। इस अवसर पर सुश्री निर्मला भूरिया विधायक पेटलावद, श्री शांतिलाल बिलवाल विधायक झाबुआ, श्री कलसिंह भाबर विधायक थांदला, श्रीमती रंजना बघेल विधायक मनावर, श्री वेलसिंह भूरिया विधायक सरदारपुर, श्री रजनीश वेश्य नर्मदा विकास प्राधिकरण के सीएस, कलेक्टर झाबुआ श्री आशीष सक्सेना, पुलिस अधीक्षक श्री महेशचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि, शासकीय सेवक एवं बडी संख्या मे ग्रामीणजन उपस्थित थे।   

   भूमिपूजन करने के बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस नवाचारी पहल से झाबुआ एवं धार जिले मे नर्मदा का पानी पाइप लाईन के माध्यम से सिंचाई से वंचित ऊंचाई पर बसे उबड खाबड अंचलों तक पहुंचेगा। इससे सिंचाई लाभ झाबुआ एवं धार जिले को मिलेगा। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा लागू की जा रही उद्वहन माईक्रो सिंचाई कार्ययोजना सें चमत्कारिक परिणाम होंगे। इस परियोजना से झाबुआ जिले की झाबुआ, पेटलावद, थांदला, मेघनगर और धार जिले की सरदारपुर तहसीलों को 57422 हेक्टेयर सिंचाई का लाभ मिलेगा।  
   योजना के अंतर्गत धार जिले के ग्राम मलवाडी के पास से नर्मदा का जल उद्वहन किया जायेगा। यह जल 460 मीटर ऊंचाई तक 18 घनमीटर प्रति सेकण्ड की क्षमता से धार जिले के ग्राम जाली में निर्मित जंक्शन संरचना में पहुचेगा। यहां संग्रहित जल ग्रेविटी प्रवाह से खेतों तक पाईप लाईनों द्वारा पहुंचाया जायेगा।   
   योजना से झाबुआ जिले की झाबुआ तहसील के 73 गांवो का 15123 हेक्टेयर, थांदला तहसील के 32 गांवो का 5463 हेक्टेयर, पेटलावद तहसील के 24 गांवो का 7355 हेक्टेयर और मेघनगर तहसील के 18 गांवो का 4059 हेक्टेयर रकबा सिंचित होगा। योजना से धार जिले की सरदारपुर तहसील के 55 गांवो को भी 25422 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई का लाभ मिलेगा। आदिवासी अंचल की यह महत्वाकांक्षी योजना से झाबुआ और धार जिले के इस अंचल के लिये वरदान साबित होगी। इस योजना निर्माण पर 2050 करोड 70 लाख रूपये का व्यय अनुमानित है। इस योजना के क्रियान्वित होने से क्षेत्र के किसानो को और अधिक भूमि को सिंचित करने के लिये पानी मिल सकेगा। किसान स्प्रिंकलर पद्धति से सिंचाई कर पायेंगे।
किसानो को सोयाबीन फसल नुकसानी के लिये राहत दी जाएगी
   कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानो से संबंधित योजनाओ की जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा किसानो के हित मे कई निर्णय लिये गये है। सिंचाई क्षमता बढाने के साथ साथ किसानो को जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण दिया जा रहा है। उर्वरक के अग्रिम भंडारण की सुविधा भी दी जा रही है। जिससे उन्हे समय पर खाद उपलब्ध हो पाये। प्याज एवं लहसून की भावांतर राशि का भुगतान भी जल्द ही किसानो को किया जायेगा। इस क्षेत्र मे सोयाबीन की फसल की अफलन की स्थिति के बारे मे मुझे जनप्रतिनिधियो ने बताया है। फसल नुकसानी के लिये किसान चिंतित ना हो, फसल नुकसानी के लिये राहत की व्यवस्था शासन द्वारा की जायेगी। इस अवसर पर उन्होनें संबल योजना मे बिल माफी, आवासीय पट्टे, प्रसूति सहायता, उपचार सहायता, आर्थिक सहायता के बारे मे बताया एवं गरीब भाई बहनो को इसका लाभ लेने के लिये अपील की। साथ ही शासन की अन्य योजनाओ के बारे मे भी बताया।
नगर परिषद पेटलावद को 1 करोड की सौगात
   जिले के भ्रमण पर आये मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पेटलावद नगर परिषद मे विकास कार्यो के लिये 1 करोड रूपये विशेष निधि से देने की घोषणा की। भूमि पूजन कार्यक्रम मे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संबल योजना, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रसूति सहायता योजना सहित अन्य योजनाओ के हितग्राहियो को हितलाभ का वितरण भी मंच से किया। ग्रामीण क्षेत्रो मे जिला ओडीएफ होने से सरपंचो, विधायको एवं अन्य जनप्रतिनिधियो ने मंच पर पुष्पहार पहनाकर, जिले की संस्कृति के प्रतीक चिन्ह तीर कमान भेंट कर एवं आदिवासी झूलडी पहनाकर मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान का  अभिवादन किया। कार्यक्रम मे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भूमिपूजन के बाद मंच पर कन्याओ के पैर धोकर  कन्यापूजन कर, कन्याओ को उपहार एवं श्रीफल भेंट किये। कार्यक्रम मे स्वागत भाषण क्षेत्रीय विधायक सुश्री निर्मला भूरिया ने दिया। नर्मदा विकास प्राधिकरण के सीएस श्री रजनीश वेश्य ने मंच से नर्मदा झाबुआ पेटलावद उद्वहन परियोजना की विस्तृत जानकारी दी।

Tags: नर्मदा झाबुआ पेटलावद उद्वहन परियोजना

Post your comment
Name
Email
Comment
 

झाबुआ

विविध