खास खबरें वाट्सएप पर पोस्ट करने पर पटवारी की शिकायत, कलेक्टर ने उज्जैन किया अटैच पीएम मोदी ने की ट्विटर के सीईओ से मुलाकात, ट्विटर की तारीफ में बोले ये... अफरीदी ने इमरान को दी सलाह, कश्‍मीर को छोड़ पहले अपने 4 राज्‍य संभालें मिताली ने टी-20 में बनाया रिकॉर्ड, रोहित-विराट को भी पीछे छोड़ा राहुल गांधी की मौजूदगी में टिकट बंटवारे को लेकर पायलट और डूडी में कहासुनी लेक कोमो में सात जन्‍मों के बंधन में बंधे रणवीर-दीपिका, करण जौहर ने दी बधाई आज से दिल्‍ली में शुरू होगा ट्रेड फेयर, 18 से मिलेगी आम लोगों को एंट्री पीएम मोदी-राहुल गांधी 16 नवम्‍बर को मध्‍यप्रदेश के एक ही जिले करेगें रैलियां बहू और उसके परिजनों की प्रताड़ना से तंग आ ससुर खुद को गोली मार की आत्‍महत्‍या छठ पूजा : संतान प्राप्ति और उनकी मंगल कामना के लिए करते है सूर्य की उपासना

129 गांवों की 50 हजार हेक्टेयर से अधिक भूमि होगी सिंचित

129 गांवों की 50 हजार हेक्टेयर से अधिक भूमि होगी सिंचित

Post By : Dastak Admin on 05-Sep-2018 22:52:49

बिंजलवाड़ा उद्वहन सिंचाई योजना


बिना भू-अर्जन के भूमि सिंचित करने वाली निमाड़ की पहली योजना, मुख्यमंत्री ने का किया भूमिपूजन 
खरगौन | प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को खरगोन जिले के 129 गांवों को एक बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भीकनगांव की स्थानीय कृषि उपज मंडी में बिंजलवाड़ा उद्वहन सिंचाई योजना का भूमिपुजन किया। निमाड़ क्षेत्र में बिना भू-अर्जन के भूमि सिंचित करने वाली पहली योजना होगी, जिससे किसी भी किसान की भूमि अधिग्रहित नहीं की जाएगी। नर्मदा घाटी की नहर सिंचाई से वंछित अंचलों तक नर्मदा का जल ले जाने की अत्याधुनिक तकनीक से खरगोन जिले की 50164 हेक्टेयर भूमि बिंजलवाड़ा उद्वहन सिंचाई योजना से लाभांवित होगी। योजना के अंतर्गत इंदिरा सागर परियोजना की मुख्य नहर आरडी 57.85 किमी से 17.80 घन मीटर जल प्रति सेकंड की क्षमता से उद्वहन किया जाएगा। इस योजना से जल उद्वहन कर 2 स्टेज से 120.50 मीटर की ऊंचाई तक पहुंचेगा। योजना से खरगोन जिले की भीकनगांव तहसील के 88 गांवों को 37524 हेक्टेयर, झिरन्या तहसील के 25 गांवों को 7386 हेक्टेयर तथा सनावद तहसील के 16 गांवों को 5254 हेक्टेयर सिंचाई का लाभ मिलेगा। यह उद्वहन सिंचाई योजना 745 करोड़ रूपए की लागत से पूर्ण होगी। भूमिपूजन कार्यक्रम में प्रदेश के श्रम एवं कृषि राज्यमंत्री श्री बालकृष्ण पाटीदार, खंडवा सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान, खरगोन-बड़वानी सांसद श्री सुभाष पटेल, क्षेत्रीय विधायिका श्रीमती झूमा सोलंकी, भीकनगांव नगर परिषद अध्यक्ष श्री दीपक ठाकुर, सीसीबी अध्यक्ष श्री रणजीतसिंह डंडीर, पूर्व विधायक श्री बाबुलाल महाजन, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री परसराम चौहान, इंदौर संभाग कमिश्नर श्री राघवेंद्रसिंह, इंदौर संभाग एडीजे श्री एके शर्मा, कलेक्टर श्री शशि भूषण सिंह, पुलिस अधीक्षक डी कल्याण चक्रवर्ती उपस्थित रहें। 
उद्वहन माईक्रों सिंचाई की नवाचारी पहल आरंभ
   मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा जिस सिंचाई योजना का भूमिपूजन हुआ है। यह निमाड़ के क्षेत्र में पहली ऐसी योजना है, जिसमें स्थाई भूमि का भू-अर्जन नहीं होगा। योजना से संपूर्ण जल वितरण पाईप प्रणाली पर आधारित होगा। किसान को प्रत्येक 2.50 हेक्टेयर चक तक पाईप द्वारा 20 मीटर दाबयुक्त जल मिलेगा। इससे किसान आधुनिक कृषि के नवीन तकनिकों जैसे फव्वारा अथवा ड्रीप पद्धति से सिंचाई कर सकेंगे। नहर सिंचाई से वंछित नर्मदा घाटी के ऊंचाई पर बसे गांवों के किसानों को नर्मदा जल उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री की पहल पर नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण ने उद्वहन माईक्रों सिंचाई की नवाचारी पहल आरंभ की है। इसके परिणाम स्वरूप विभिन्न स्थानों से नर्मदा नदी, नर्मदा घाटी जलाशय तथा जलाशयों की नहरों से जल उद्वहन कर माईक्रों सिंचाई उपलब्ध कराई जा रही है। नहर सिंचाई से वंछित किसानों को समृद्ध करने की दिशा में प्रदेश शासन नियमित ऐसी योजनाओं की सौगात दे रही है।

Tags: बिंजलवाड़ा उद्वहन सिंचाई योजना

Post your comment
Name
Email
Comment
 

खरगोन

विविध