खास खबरें आज होंगे बाबा बाल हनुमान के पालकी दर्शन, निकलेगा झांकियों का कारवां नीति आयोग के सीईओ ने कही बड़ी बात, बिना रोजगार संभव नहीं इतनी विकास दर किम जोंग करेंगे रूस के राष्‍ट्रपति पुतिन से मुलाकात, इस महीने करेंगे रूस की यात्रा विरोधी क्रिकेट टीम की दो महिला क्रिकेटरों ने रचाई शादी प्रियंका चतुर्वेदी हुई शिवसेना में शामिल, कांग्रेस में इस से थी नाराज 'सांड की ऑंख' की शूटिंग के दौरान बुरी तरह झुलसा भूमि पेडनेकर का चेहरा सुस्त होती अर्थव्यवस्था को देख RBI ने घटाई दरें, समीक्षा बैठक में बात कही गई हेमंत करकरे पर साध्‍वी प्रज्ञा के विवादित बयान पर बीजेपी ने दी सफाई कहा-ये उनका निजी बयान है । पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा, गला दबाकर हुई रोहित शेखर की हत्‍या आज के दिन करें ये उपाय, बरसेगी हनुमान जी की कृपा

सुस्त होती अर्थव्यवस्था को देख RBI ने घटाई दरें, समीक्षा बैठक में बात कही गई

सुस्त होती अर्थव्यवस्था को देख RBI ने घटाई दरें, समीक्षा बैठक में बात कही गई

Post By : Dastak Admin on 19-Apr-2019 16:55:21

RBI decrease Rate

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति समीक्षा में मुख्य नीतिगत ब्याज दरों में 0.25 फीसद कटौती किए जाने के पक्ष में वोट दिया।इसी महीने मौद्रिक नीति समिति की मौद्रिक समीक्षा बैठक के जारी ब्योरे में यह बात कही गई। डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने हालांकि यथास्थिति बनाए रखने के पक्ष में मतदान किया था।
आरबीआइ जिस दर पर वाणिज्यिक बैंकों को कर्ज देता है, उसे रेपो दर कहते हैं। एक अन्य सदस्य चेतन घाटे ने भी रेपो दर में कटौती के विरोध में मतदान किया था।एमपीसी के चार सदस्यों ने रेपो दर में 25 आधार अंक कटौती किए जाने के पक्ष में मतदान किया था। आरबीआइ ने चालू मौद्रिक नीति समीक्षा की घोषणा इस महीने चार तारीख को की थी।
समीक्षा में महंगाई दर कम रहने का लाभ उठाते हुए रेपो दर को 0.25 फीसद घटाकर 6 फीसद कर दिया गया था। यह एक साल की न्यूनतम दर है।
आरबीआइ ने लगातार दूसरी बार रेपो दर में कटौती करने का फैसला लिया है।

 

Tags: RBI decrease Rate

Post your comment
Name
Email
Comment
 

व्यापार

विविध