खास खबरें यूडीए की जमीन से अतिक्रमण हटाने पहुंची पुलिस, युवक ने काट ली हाथ की नस आधार है पूरी तरह सुरक्षित, इससे मिली आम नागरिक को पहचान : सुप्रीम कोर्ट यूएन में ट्रम्‍प ने की भारत की तारीफ 'लाखों लोगों को गरीबी से बाहर निकाला' बैडमिंटन स्‍टार साइन नेहवाल की बैडमिंटन खिलाड़ी पी कश्‍यप के साथ बनी जोड़ी, जल्‍द होने वाली है शादी पीएम मोदी पर अक्रामक हुए राहुल गांधी बोले, पीएम मोदी है 'कमांडर इन थीफ' श्रीदेवी की मौत के बाद इस तरह पिता और बहनों के करीब आये अर्जुन कपूर निफ्टी 11100 के पार, सेंसेक्स 200 अंक मजबूत संबल योजना में 2 करोड़ से अधिक श्रमिक लाभान्वित : राज्यमंत्री श्री पाटीदार टॉपर छात्रा से पहले भी कई लड़कियों को अपना शिकार बना चुके थे रेवाड़ी काण्‍ड के दरिंदे आज से शुरू होगा, पितृों का पूजन-तर्पण, पूर्णिमा का होगा पहला श्राद्ध

अब सीबीएसई में 80 प्रतिशत लाने पर भी मिलेगा ‘मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना‘ का लाभ - मुख्यमंत्री श्री चौहान

अब सीबीएसई में 80 प्रतिशत लाने पर भी मिलेगा ‘मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना‘ का लाभ - मुख्यमंत्री श्री चौहान

Post By : Dastak Admin on 06-Sep-2018 21:01:08

medhavi vidhyarthi yojna, khandwa medical college

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया खण्डवा में मेडिकल कॉलेज का लोकार्पण 
खण्डवा | मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का लाभ अब उन विद्यार्थियों को भी मिलेगा, जिन्होंने सीबीएसई सिलेबस के तहत बारहवीं में 80प्रतिशत  अंक हासिल किए हैं। खंडवा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह घोषणा करते हुए कहा कि पूर्व में 85प्रतिशत  की सीमा को घटाकर 80प्रतिशत  कर दिया जाएगा। श्री चौहान ने खंडवा में 500 बिस्तर के अत्याधुनिक अस्पताल खोले जाने की भी घोषणा की। श्री चौहान ने आज खंडवा में 200 करोड रुपए की लागत से निर्मित मेडिकल कॉलेज भवन का लोकार्पण भी किया। श्री चौहान ने इस मेडिकल कॉलेज में बीएससी नर्सिंग कॉलेज खोले जाने की भी घोषणा की। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री श्री विजय शाह, स्थानीय सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा, स्थानीय विधायक श्री देवेंद्र वर्मा, विधायक पंधाना श्रीमती योगिता बोरकर सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में 1964 के बाद से कोई मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया था। सरकार ने नवीन मेडिकल कॉलेज के लिए आधारभूत संरचना उपलब्ध कराते हुए नवीन कॉलेज खोले। इससे प्रदेश में डॉक्टरों की कमी दूर होगी। उन्होंने खंडवा मेडिकल कॉलेज के शुभारंभ अवसर पर निमाड़ वासियों को बधाई दी और कहा कि इससे अंचल को फायदा मिलेगा। यह मेडिकल कालेज विद्यार्थियों के प्रवेश के साथ ही इस सत्र से प्रारंभ हो गया है।

    श्री चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में विद्यार्थियों की फीस सरकार द्वारा जमा करने से अब कोई फीस की कमी के कारण मन मसोसकर उच्च शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा। श्री चौहान ने दो विद्यार्थियों सौरभ पटेल और प्रीति मिश्रा को मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के तहत मंच से लाभ भी प्रदान किया। मंत्री श्री चौहान ने खंडवा के श्री सुधीर लाड़ के सुझाव को जिक्र करते हुए मंच से घोषणा की कि अब मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना में CBSE सिलेबस के तहत 85 प्रतिशत के बजाय 80 प्रतिशत अंक लाने वाले विद्यार्थियों को भी योजना का लाभ दिया जाएगा। श्री चौहान ने मेडिकल कॉलेज भवन के लिए स्वीकृत 200 करोड़ रुपए के अतिरिक्त विभिन्न उपकरणों और आवश्यक सामग्री के लिए 300 करोड़ रुपये देने की भी घोषणा की। श्री चौहान ने कहा कि इसी मेडिकल कॉलेज में बीएससी नर्सिंग की पढ़ाई भी कराई जाएगी। जिससे बच्चियों को नौकरी मिलने का मार्ग भी प्रशस्त होगा। उन्होंने मेडिकल के सभी नव प्रवेशित विद्यार्थियों को अपनी ओर से हनुमंतिया टूर कराए जाने के निर्देश भी स्थानीय प्रशासन को दिए। 
    स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने खण्डवा में मेडिकल कॉलेज खुलने को एक बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने लाखों निमाड़ वासियों को सौगात दी है। स्थानीय विधायक श्री देवेंद्र वर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि खंडवा जैसे छोटे शहर में मेडिकल कॉलेज खोले जाने की घोषणा पर किसी को पूर्व में विश्वास नहीं हो रहा था, परंतु मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के विशेष स्नेह खंडवा के लिए विशेष स्नेह के कारण इस घोषणा ने आज मूर्त रूप ले लिया है। क्षेत्रीय सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि खंडवा के मेडिकल कॉलेज में चार सुपर स्पेशिब्लिटी सुविधाएं भी रहेंगी।  उन्होंने खंडवा में मेडिकल कॉलेज के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार व्यक्त किया। 
     आयुक्त चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला ने बताया कि  प्रतिवर्ष 100 एमबीबीएस सीटों पर प्रवेश देने वाला खण्डवा मेडिकल कॉलेज प्रदेश का 10 वां मेडिकल कॉलेज हैं। 1946 में प्रदेश में पहला मेडिकल कॉलेज ग्वालियर में खुला तथा 1963 तक कुल 5 मेडिकल कॉलेज बड़े शहरों मेंखोले गये। इसके पश्चात 45 वर्षों के लंबें अंतराल में कोई भी मेडिकल कॉलेज प्रदेश में नहीं खुला। मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में वर्ष 2009 में सागर छठा मेडिकल कॉलेज खुला और अब वर्ष 2018 में एक वर्ष में ही 4 नयें मेडिकल कॉलेज खण्डवा, विदिशा, दतिया और रतलाम में खोले जा रहें हैं। 
    कार्यक्रम में संभागायुक्त इंदौर संभाग श्री राघेवन्द्र सिंह, एडीजी इंदौर श्री अजय शर्मा, कलेक्टर श्री विशेष गढ़पाले, और पुलिस अधीक्षक श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।
    उल्लेखनीय है कि इस भवन की प्रशासकीय स्वीकृति 1 सितम्बर 2015 को जारी हुई थी तथा 23 सितम्बर 2015 से मुम्बई की कम्पनी गेंनन डंक्करले एण्ड कम्पनी लिमिटेड ने भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ किया था। इस मेडिकल कॉलेज भवन का भूमिपूजन कार्यक्रम 5 दिसम्बर 2015 को सम्पन्न हुआ था। इस मेडिकल कॉलेज भवन की निर्माण लागत 200.53 करोड़ रूपये है। मेडिकल कॉलेज के मुख्य भवन के अलावा 238 छात्रों के लिए बॉयज हॉस्टल एवं 238 छात्राओं के लिए गर्ल्स हॉस्टल तथा टीचिंग स्टाफ के लिए 42 तथा नॉन टीचिंग स्टाफ के लिए 36 आवासीय भवन भी निर्मित किए गए है। इसके अलावा एक गेस्ट हाउस भी बनकर तैयार हो गया तथा खेल परिसर निर्मार्णाधीन स्थिति में है। मेडिकल कॉलेज शुभारंभ होने के बाद जिला चिकित्सालय खण्डवा के परिसर में 500 बिस्तरीय अत्याधुनिक साज सज्जा युक्त शैक्षणिक अस्पताल भवन, गहन चिकित्सा इकाई, 24 घंटे आपातकालीन सुविधा, 24 घंटे प्रयोगशाला व ब्लड बैंक की सुविधा, रेडियो लॉजी विभाग के अंतर्गत सीटी स्केन, एमआरआई, एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड सुविधा, 6 अत्यंत आधुनिक ऑपरेशन थ्रियेटर, 128 रेसिडेंट डॉक्टर्स के लिए हॉस्टल सुविधा, 190 नर्सेस के लिए हॉस्टल सुविधा के अलावा मेस तथा लॉड्री की सुविधा भी उपलब्ध होगी।          

Tags: medhavi vidhyarthi yojna, khandwa medical college

Post your comment
Name
Email
Comment
 

खंडवा

विविध