खास खबरें दर्शनार्थी द्वारा मन्दिर गार्ड के साथ मारपीट प्रकरण में एफआईआर दर्ज थरूर की डिक्‍शनरी से निकला एक और नया शब्‍द 'BIBLIOBIBULI', ये इसका है मतलब... इंडोनेशिया : मस्जिदों में नमाजियों को दिया जा रहा कट्टरता का पाठ -खुफिया एजेंसी हॉकी वर्ल्‍ड कप : पाकिस्‍तान टीम के कप्‍तान ने किया दावा 'हम खेल के साथ इस बार दिल भी जीतकर आएंगे.’ सुषमा स्‍वराज के चुनाव नहीं लड़ने की बात पर बोले चिदंबरम 'बीजेपी की हालत देख छोड़ रही मैदान' आज बेंगलुरू में होगा दीपवीर का रिसेप्‍शन, फैमिली सहित पहुंचे बेंगलुरू निफ्टी 10750 के नीचे, सेंसेक्स 100 अंक लुढ़का पीएम मोदी आज झाबुआ में करेंगे चुनावी सभा, ये चीजे ले जाना प्रतिबंधित अपनी मांगों को लेकर 20 हजार किसान पहुँचे ठाणे कर्ज से दिलाता है मुक्ति भोम प्रदोष व्रत, जानें कथा .

निर्वाचन में सभी अधिकारी निष्पक्ष व निर्भीक होकर कार्य करें -कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह प्रशिक्षण में दी अधिकारियों को जानकारी

निर्वाचन में सभी अधिकारी निष्पक्ष व निर्भीक होकर कार्य करें -कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह प्रशिक्षण में दी अधिकारियों को जानकारी

Post By : Dastak Admin on 11-Sep-2018 17:04:13

Upcoming assembly election

आगामी विधानसभा निर्वाचन को दृष्टिगत रखते हुए निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में स्थैतिक निगरानी दल, उड़न दस्ता, वीडियो विविंग टीम में शामिल अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ.सतेन्द्र सिंह ने निर्देश दिए कि निर्वाचन को गंभीरता से लेकर कार्य करें। उन्होने कहा कि निर्वाचन के दौरान की जाने वाली कार्यवाही निष्पक्ष बिना डरे व ईमानदारी से करे। उन्होंने कहा कि बार्डर वाले जिलों के अधिकारियों के मोबाइल नंबर सभी अपने पास अवश्य रखे, ताकि आवश्यकता पड़ने पर संपर्क किया जा सके। 
   जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं प्रशिक्षण प्रभारी श्री शीलेन्द्र सिंह व सहायक प्रशिक्षण प्रभारी सुश्री विशा वाधवानी ने उपस्थित सभी अधिकारियों को पावर पाइंट प्रजेटेशन के माध्यम से सौंपे गये अधिकारो व कर्तव्यों के संबंध में जानकारी दी। प्रशिक्षण में बताया कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, व्यय निगरानी का उद्देश्य, चुनाव व्यय के प्रकार, वीडियो अवलोकन दल के कार्य सहित अन्य जानकारी दी गई। सीईओ श्री सिंह ने बताया कि प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में 3 या 4 उडन दस्ते होंगे। उडन दस्ते निर्वाचनों की घोषणा की तारीख से लेकर मतदान की समाप्ति तक कार्य करते रहेंगे।

 

Tags: Upcoming assembly election

Post your comment
Name
Email
Comment
 

बुरहानपुर

विविध