खास खबरें महर्षि पाणिनि संस्कृत विवि में तीसरा युवा महोत्सव आज से शुरू सुरक्षा बलों की 100 कंपनियों ने की घाटी में कूच, यासीन मलिक को किया गया अरेस्ट पुलवामा हमला : दबाव में आया पाकिस्‍तान ने जैश-ए-मोहम्मद के मुख्‍यालयों का नियंत्रण अपने हाथ में लिया यहॉ शुरू होगा नये नियमों वाला क्रिकेट, टूर्नामेंट में खेली जाएंगी 100 बॉल पीएम मोदी आज राजस्‍थान में करेंगे करेंगे रैली, टोंक से करेंगे चुनावी अभियान की शुरूआत 'दिल चोरी साडा़ हो गया' को मिला सॉन्‍ग ऑफ दि ईयर का अवॉर्ड पीएफ पर बढ़ी ब्‍याज दर, नौकरीपेशा को होगा इतना लाभ मध्‍यप्रदेश में यहा मिला मिला 70 लाख टन सोने का भंडार PRC : अरूणाचल प्रदेश के ईंटानगर में भड़की हिंसा, इंटरनेट बंद संकष्टी चतुर्थी : श्री गणेश दूर कर देते है जीवन के सारे विघ्‍न

लक्ष्य निर्धारित कर उसे पाने करे तैयारी आयुक्त डॉ. अग्रवाल

लक्ष्य निर्धारित कर उसे पाने करे तैयारी आयुक्त डॉ. अग्रवाल

Post By : Dastak Admin on 31-Aug-2018 21:40:48

mil banche mp


मिलबाँचे कार्यक्रम में शामिल हुए आयुक्त चंबल संभाग एवं कलेक्टर 
भिण्ड | आयुक्त चंबल संभाग डॉ. एम.के अग्रवाल ने आज जिला मुख्यालय स्थित शा.मा.वि.कॉटनजीन क्रमांक 2 में आयोजित मिलबाँचे कार्यक्रम में बच्चों से रूबरू होकर उनके साथ अपने अनुभव साँझा किए। 
    आयुक्त डॉ. अग्रवाल ने बच्चों को जीवन में लक्ष्य निर्धारित करने की समझाईस दी। उन्होंने कहा की लक्ष्य निर्धारित करने से हमारे विचारों ओर कार्य में स्पष्टता आती है। उन्होंने बच्चों को समय प्रबंधन का महत्व समझाया। आयुक्त डॉ. अग्रवाल ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए समय का प्रबंधन अति आवश्यक है। आयुक्त डॉ. अग्रवाल ने बच्चों से लिखने की आदत डालने को कहा। उन्होंने बताया की इससे विचार और लेखन में सुधार आता है।
    संभागायुक्त डॉ. अग्रवाल ने बताया की शिक्षा के तीन अहम प्रतिभागी विद्यार्थी, मातापिता एवं शिक्षक है। इन तीनो का वेहतर शिक्षा हेतु समन्वय आवश्यक है। उन्होंने कहा की मातापिता सदैव अपने बच्चों का भला चाहते है अगर वे कभी डांटते है, तो बच्चों के भले के लिए ही डांटते है। संभाग आयुक्त चंबल डॉ. अग्रवाल ने बच्चों से खूब मन लगाकर पढ़ने की समझाईश दी।
    कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता ने मिलबाँचे कार्यक्रम में बच्चों के साथ अपने अनुभव साँझा करते हुए कहा कि प्राथमिक शिक्षा, आधार हैं जीवन में यह शिक्षा सदैव हर क्षेत्र में काम आती है। कलेक्टर ने बच्चों से खूब मन लगाकर पढ़ने को कहा। उन्होंने बच्चों से पाठ्यक्रम की किताबों के साथ अन्य ज्ञान वर्धक किताबें भी पढ़ने को कहा। उन्होंने बताया कि इससे आपका बौद्धिक विकास होगा। कलेक्टर ने बच्चों से पूछा कि बडे होकर क्या बनना चाहते हो। इस पर बच्चों ने जवाब दिया कि में कलेक्टर बनना चाहते हैं। 
   कार्यक्रम में प्रतिभावान बच्चों को आयुक्त चंबल संभाग डॉ. एम.के.अग्रवाल एवं कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता द्वारा जॉयफुल लर्निंग किट प्रदान की गयी। आयुक्त डॉ. एमके अग्रवाल एवं कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता ने विद्यालय परिसर में बनाई एक्टिविटी हॉल का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री सिकरवार एवं विद्यालय के छात्रछात्राऐं तथा शिक्षकशिक्षकाऐं उपस्थित थे।

 

Tags: mil banche mp

Post your comment
Name
Email
Comment
 

भिंड

विविध