खास खबरें ग्रुप डिस्कशन और सेमिनार से बता रहे भोजन में सब्जियां लें, जंकफूड न खाए 2025 तक इंसानों से ज्यादा काम करेंगी मशीनें : वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम माता-पिता की इस लत के खिलाफ बच्‍चों ने सड़कों पर किया विरोध प्रदर्शन क्रिकेट टीम कप्तान विराट कोहली और वेटलिफ्टर मीराबाई चानू को राजीव गांधी खेल रत्न देने की सिफारिश अजय माकन ने दिया दिल्‍ली कांग्रेस के अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा कैंसर के मुश्किल जंग जीतने के बाद 46 की उम्र में लीजा बनी जुड़वा बेटियों की मॉं सेंसेक्स 37650 के करीब, निफ्टी 11400 के ऊपर कर्तव्यों का निर्वहन सिखाते हैं विश्वविद्यालय : राज्यपाल श्रीमती पटेल रेवाड़ी गैंगरेप : मुख्‍य आरोपी निशु पहले भी कर चुका है ऐसी वारदात चौथे दिन उत्तम शौच धर्म की पूजा के साथ, अपनी वाणी को अपने मन को अपने कर्मों को उत्तम बनाना ही शौच धर्म है

जिले में शहीदों के परिजनों का हुआ सम्मान

जिले में शहीदों के परिजनों का हुआ सम्मान

Post By : Dastak Admin on 14-Aug-2018 20:17:46

shahid samman diwas


जिला स्तरीय समारोह उत्कृष्ट विद्यालय शिवपुरी में हुआ सम्पन्न 
शिवपुरी | प्रदेश सहित जिले में भी शहीदों का सम्मान किया गया। जिला स्तरीय शहीद सम्मान समारोह जिला मुख्यालय पर आज शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक-1 शिवपुरी में सम्पन्न हुआ। 
   शहीद सम्मान समारोह में शहीद स्व.श्री पूरन लाल देवरिया मुरैना इकाई, सहायक उपनिरीक्षक स्व.श्री केदारलाल शर्मा शिवपुरी इकाई, स्व.श्री रघुनाथ सिंह और स्व.श्री दीपेन्द्र सिंह सेंगर आरक्षक गुना इकाई के चित्र पर माल्यापर्ण कर उन्हें श्रृद्धांजलि दी गई और शहीदों के वरिष्ठ परिजनों का शॉल व श्रीफल एवं शासन द्वारा प्रदाय प्रमाण-पत्र भेंट कर सम्मान किया गया। इसी प्रकार पोहरी में खुलीपुरा निवासी स्व.कैलाश यादव की पत्नि श्री शिया यादव को और करैरा में स्व. तुलसीराम शिवहरे की पत्नि हरकुंवर वाई को शॉल श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया।
    जिला स्तरीय शहीद सम्मान समारोह में म.प्र.बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष श्री राघवेन्द्र शर्मा, विधायक पोहरी श्री प्रहलाद भारती, आई.जी.भोपाल श्री मो.शाहिद अवरार, डीआईजी ग्वालियर श्री मनोहर वर्मा, कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश हिंगणकर एवं शहीदों के परिजनों ने शहीदों के चित्र पर माल्यापर्ण किया। 
    बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष श्री राघवेन्द्र शर्मा ने कार्यक्रम में शहीदों को नमन करते हुए कहा कि जिन शहीदों की याद में आज कार्यक्रम आयोजित हुआ है। उन शहीदों से हम एवं आने वाली पीढ़ी उन्हें याद कर प्रेरणा लेती रहेगी। उन्होंने कहा कि वीर शहीद सपूतों ने देश एवं समाज की सेवा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी विषम परिस्थितियों में अपने परिवार की परवाह किए बिना देश एवं समाज की सेवा करते है। समाज का भी दायित्व है कि पुलिस कर्मियों को हम पूर्ण सम्मान दें। 
    विधायक पोहरी श्री प्रहलाद भारती ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अपने कर्तव्यों के पालन करते हुए जो शहीद होते है, वो अमर शहीद कहलाते है। अपने लिए तो सभी जीते है। लेकिन जो देश एवं समाज की सेवा के लिए अपने प्राण त्याग देते है। उन्हें हमेशा इतिहास याद करता है। उन्होंने कहा कि शहीदों के परिजनों को सम्मानित करने का राज्य सरकार ने जो निर्णय लिया है, वह एक सराहनीय पहल है। शहीदों के परिजनों को सम्मानित कर हम सभी अपने आपकों गौरान्वित महसूस कर रहे है। उन्होंने युवा पीढ़ी से कहा कि वे शहीदों से प्रेरणा लें। 
    आईजी श्री मो.शाहिद अवरार ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य शासन ने निर्णय लिया है कि प्रति वर्ष 14 अगस्त को शहीदों के सम्मान में शहीद सम्मान दिवस का आयोजन किया जाएगा। इस सम्मान समारोह में मध्यप्रदेश राज्य के कई बहादुर सेना, अर्द्धसेना एवं पुलिस में सेवारत रहते हुए युद्ध, सैनिक कार्यवाही, आंतरिक सुरक्षा, नक्सलबाद तथा आंतकवादी गतिविधियों के दौरान अपने प्राणों को उत्सर्ग किया है, उनकी शहादत को सम्मानपूवर्क स्मरण करने हेतु प्रतिवर्ष शहीद सम्मान दिवस मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह सही है कि सभी को शहीद एवं शहादत नहीं मिलती है। उन्होंने कहा कि वे माता-पिता धन्य है जिन्होंने सूरवीर जैसी संतान पैदा की और देश एवं समाज के लिए अपने प्राण त्यागे। आईजी ने कहा कि हम सभी को हमेशा देश की एकता, अखण्डता के लिए प्राण न्यौछावर करने के लिए तैयार रहना चाहिए। 
    कार्यक्रम के अंत में कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने कहा कि विद्यालय में शहीद सम्मान समारोह आयोजन करने का मुख्य मकसद शहीदों के बारे में आने वाली पीढ़ी को यह शिक्षा देनी है कि शहीदों ने देश एवं समाज के लिए अपने प्राण न्यौछावर किए, छात्र-छात्राए इनसे प्रेरणा लें। शहीद सम्मान समारोह में उपनिरीक्षक मुरैना इकाई श्री स्व.पूरनलाल देवरिया की पत्नि श्रीमती मालती देवरिया पुत्र दामोदर देवरिया, शहीद कर्मचारी सहायक उपनिरीक्षक स्व.केदारलाल शर्मा की पत्नि श्रीमती गीता शर्मा, शहीद सहायक उपनिरीक्षक श्री रघुनाथ सिंह की पत्नि श्रीमती मथुरा देवी परिहार पुत्र कौशलेन्द्र सिंह परिहार और आरक्षक गुना स्व.श्री दीपेन्द्र सेंगर की पत्नि श्रीमती सीमा सेंगर पुत्र चंद्रभान सिंह सेंगर को शॉल श्रीफल एवं प्रशंसा पत्र प्रदाय कर सम्मानित किया। कार्यक्रम में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेश जैन, संस्था के प्राचार्य श्री वी.के.श्रीवास्तव सहित अधिकारीगण एवं छात्र-छात्राए एवं शहीदों के परिजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्री गिरीश मिश्रा ने किया। 
    उल्लेखनीय है कि स्व.श्री पूरन लाल देवरिया मुरैना इकाई द्वारा 9 जुलाई 97 को डकैत माखन सिंह गैंग के साथ हुई मुठभेड में अदम्य साहस का परिचय देते हुए शहीद हुए हैं। स्व.श्री केदारलाल शर्मा सहायक उपनिरीक्षक शिवपुरी ईकाई के द्वारा 16 फरवरी 23 को डकैत हाकिम सिंह बुन्देला के साथ हुई मुठभेड में अदम्य साहस का परिचय देते हुए शहीद हुए हैं। स्व.श्री रघुनाथ सिंह शिवपुरी इकाई द्वारा 8 जून 23 को अतिमहत्वपूर्ण व्यक्ति की सुरक्षा के दौरान सड़क दुर्घटना में शहीद हुए हैं। स्व.श्री दीपेन्द्र सिंह सेंगर आरक्षक गुना इकाई द्वारा 27 नवम्बर 28 को विधनसभा चुनाव के दौरान वाहन दुर्घटना में शासकीय कर्तव्य निभाने के दौरान शहीद हुए हैं।

 

Tags: shahid samman diwas

Post your comment
Name
Email
Comment
 

शिवपुरी

विविध