खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज सीबीएसई ने दी बच्‍चों और अभिभावकों को 'मोमो चैलेंज' से दूर रहने की चेतावनी राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश एशिया कप : रोहित-धवन ने जमाया शतक, पाकिस्‍तान पर 9 विकेट से भारत की धमाकेदार जीत समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर बिहार के मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर समीर कुमार की कार में गोलियां से भून कर हत्‍या आज से शुरू होगा, पितृों का पूजन-तर्पण, पूर्णिमा का होगा पहला श्राद्ध

जिले की सभी मंडियों में जींस के प्रतिदिन के भाव डिस्प्ले हो

जिले की सभी मंडियों में जींस के प्रतिदिन के भाव डिस्प्ले हो

Post By : Dastak Admin on 24-Aug-2018 22:21:49

vipdan karya yojna


जिलास्तरीय विपणन कार्य योजना बनाए जाने हेतु एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न 
शिवपुरी | जिले के कृषकों को उनकी उपज का बेहतर मूल्य दिलाने के साथ-साथ मंडियों में आधुनिक सुविधाए उपलब्ध कराए जाने हेतु एवं कृषकों को अधिक दूरी पर अपनी उपज बेचने हेतु न जाने पड़े, इसके लिए जिला स्तरीय विपणन कार्य योजना बनाए जाने हेतु गतदिनों अपर कलेक्टर श्री अशोक कुमार चौहान की अध्यक्षता में एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न हुई। जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित कार्यशाला में विभिन्न विभागों के अधिकारीगण सहित जिले की समस्त मंडियों के सचिव और नामांकित कृषक एवं अनुज्ञप्तिधारी व्यापारी उपस्थित थे। जिले की एक वर्षीय, दो वर्षीय एवं तीन वर्षीय जिला स्तरीय विपणन कार्य योजना बनाई जाएगी। इस योजना का क्रियान्वयन दल के सदस्यों द्वारा किया जाएगा।
    कार्यशाला को संबोधित करते हुए अपर कलेक्टर श्री चौहान ने कहा कि ऐसी मंडियां जो क्रियाशील नहीं है। उन्हें क्रियाशील कर किसानों की उपज को विक्रय कर बिचौलियों से मुक्त कर किसानों को मण्डियों में अद्योसंरचना के साथ-साथ मूलभूत सुविधाए बढ़ाने पर भी विशेष ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा कि यह भी देखना होगा कि मण्डी के बाहर किसान की उपज की बिक्री न हो। जिले की विभिन्न मंडियों में जींस के भाव भी सभी मंडियों में डिस्पले किए जाए। 
    जिला स्तरीय विपणन कार्य योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया गया कि जिला स्तरीय कार्य योजना को अल्प, मध्यम एवं दीर्घ अवधि कार्य योजना में बांटा जाएगा। जिसके लिए एक, दो एवं तीन वर्ष का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। कार्यशाला में बताया गया कि जिला स्तरीय विपणन कार्य योजना दल द्वारा मुख्य कार्य किए जाएगें। जिसमें मुख्य रूप से अक्रियाशील उपमंडियों को क्रियाशील कर किसानों को उपज बेचने हेतु आकर्षित किया जाएगा। जिले में कृषकों के उत्पादन को देखते हुए नवीन मण्डी स्थापना का भी आंकलन किया जाएगा। मंडियों के अद्योसंरचनात्मक विकास के कार्य भी किए जाएगें। 
    कार्यशाला में बताया गया कि मण्डी प्रबंधक द्वारा कृषि उपज के भावों में राज्य स्तर की तुलना में अंतर को न्यूनतम करने की कार्य योजना भी बनाई जाएगी। मंडियों में प्राप्त होने वाले जीन्स, मार्केटेबल, सरप्लस का अगले तीन वर्षों में क्रमशः 20, 40 एवं 60 प्रतिशत भाग की बढ़ोत्तरी कर मड़ियों में आवक की वृद्धि सुनिश्चित की जाएगी। कार्यशाला में कृषकों द्वारा बताया गया कि अधिक मूल्य वाली फसलें जैसे मसाले इत्यादि की मण्डी में आवक बढ़ाना, जिले में उत्पादों के प्रसंस्करणकर्ताओं को मण्डी से जोड़ना आदि पर भी चर्चा की गई।     

Tags: vipdan karya yojna

Post your comment
Name
Email
Comment
 

शिवपुरी

विविध