खास खबरें यूडीए की जमीन से अतिक्रमण हटाने पहुंची पुलिस, युवक ने काट ली हाथ की नस आधार है पूरी तरह सुरक्षित, इससे मिली आम नागरिक को पहचान : सुप्रीम कोर्ट यूएन में ट्रम्‍प ने की भारत की तारीफ 'लाखों लोगों को गरीबी से बाहर निकाला' बैडमिंटन स्‍टार साइन नेहवाल की बैडमिंटन खिलाड़ी पी कश्‍यप के साथ बनी जोड़ी, जल्‍द होने वाली है शादी पीएम मोदी पर अक्रामक हुए राहुल गांधी बोले, पीएम मोदी है 'कमांडर इन थीफ' श्रीदेवी की मौत के बाद इस तरह पिता और बहनों के करीब आये अर्जुन कपूर निफ्टी 11100 के पार, सेंसेक्स 200 अंक मजबूत संबल योजना में 2 करोड़ से अधिक श्रमिक लाभान्वित : राज्यमंत्री श्री पाटीदार टॉपर छात्रा से पहले भी कई लड़कियों को अपना शिकार बना चुके थे रेवाड़ी काण्‍ड के दरिंदे आज से शुरू होगा, पितृों का पूजन-तर्पण, पूर्णिमा का होगा पहला श्राद्ध

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने शिवपुरी में तेदूपत्ता श्रमिकों के खाते में ईपैंमेट से 8 करोड़ 58 लाख से अधिक की बोनस की राशि की जमा

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने शिवपुरी में तेदूपत्ता श्रमिकों के खाते में ईपैंमेट से 8 करोड़ 58 लाख से अधिक की बोनस की राशि की जमा

Post By : Dastak Admin on 31-Aug-2018 21:45:06

tendupatta sangrahak sammelan

 
शिवपुरी | लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री एवं जिले के प्रभारी श्री रूस्तम सिंह आज जिला वनोपज सहकारी यूनियन शिवपुरी की 34 प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों की कुल 22 हजार 333 तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवारों को वर्ष 2017 की बोनस राशि के रूप में कुल 8 करोड़ 58 लाख 8 हजार 355 रूपए ईपेमेंट के माध्यम से खातों में जमा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता पोहरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री प्रहलाद भारती ने की। 
    जिला मुख्यालय पर स्थित गांधी पार्क शिवपुरी में आयोजित जिला स्तरीय तेदूपत्ता बोनस वितरण समारोह में भाजपा के जिलाध्यक्ष श्री सुशील रघुवंशी, पूर्व विधायक श्री माखनलाल राठौर, श्री वीरेन्द्र रघुवंशी, मुख्य वन संरक्षक वृत्त शिवपुरी श्रीमती कामलिका मोहन्ता, कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश हिंगणकर, वनमण्डलाधिकारी श्री लवित भारती सहित जनप्रतिनिधि, बड़ी संख्या में तेदूपत्ता संग्राहक उपस्थित थे। 
    लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि तेदूपत्ता की बोनस की राशि वे अपने खजाने में न जमा करते हुए उस राशि को तेंदूपत्ता श्रमिकों को प्रदाय करेगी। इसी निर्णय के तहत राज्य सरकार तेदूपत्ता तोड़ने वाले श्रमिकों को मजदूरी से 4 गुना अधिक बोनस की राशि प्रदाय कर रही है। उन्होंने कहा कि सहरिया जनजाति के परिवारों को पोष्टिक आहार हेतु एक हजार रूपए प्रतिमाह की राशि परिवार की महिला मुखिया के खाते में सीधे जमा कराई जा रही है। 
    श्री रूस्तम सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना (संबल) में भी तेदूपत्ता श्रमिकों को शामिल कर योजनाओ का लाभ दिया जा रहा है। श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में यह एक ऐसी पहली सरकार है, जिसने तेंदूपत्ता संग्राहकों एवं उनके परिवार की चिंता कर अनकों योजनाएं संचालित की है। तेंदूपत्ता तोड़ने वाले श्रमिकों को जूता, चप्पल, पानी की कुप्पी एवं महिलाओं को साड़ी प्रदाय की गई।
    श्री रूस्तम सिंह ने तेंदूपत्ता संग्राहकों के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि तेंदूपत्ता संग्राहकों के बच्चें जो कक्षा 9वीं में पढ़ रहे है, उनको 12 हजार रूपए की राशि और कक्षा 12वीं में पढ़ने वाले छात्रछात्राओं को 15 हजार, महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्रछात्राओं को 20 हजार रूपए की राशि और इंजीनियरिंग, मेडीकल कॉलेज एवं अन्य व्यवसायिक पाठ्यकमों में अध्ययनरत छात्रछात्राओं को 50 हजार प्रतिवर्ष के रूप में राशि प्रदाय की जा रही है। उन्होंने कहा कि बिजली बिल माफी योजना के तहत शिवपुरी जिले में लगभग 100 करोड़ रूपए की राशि के बिल माफ किए गए है। 
    लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि आबादी की जमीन में रहने वाले आवासहीनों को आवासीय पट्टे प्रदाय कर उन्हें आवास निर्माण हेतु भी राशि प्रदाय की जाएगी। श्री सिंह ने मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को मिलने वाली सहायता का भी उल्लेख करते हुए श्रमिकों से योजनाओ का लाभ लेने हेतु पंजीयन कराने का आग्रह किया। 
    कार्यक्रम को विधायक श्री प्रहलाद भारती ने संबोधित करते हुए कहा कि यह पहला अवसर है कि जिले में तेंदूपत्ता संग्राहकों को मजदूरी से अधिक बोनस की राशि प्रदाय की जा रही है। उन्होंने पंडित दीनदयाल उपाध्याय का उल्लेख करते हुए कहा कि उनकी सोच थी कि सबसे पहले समाज की अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को लाभ मिले। इस सोच को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता श्रमिकों को बोनस की राशि देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के सभी वर्गों के लिए 160 से अधिक हितग्राही मूलक योजनाएं संचालित की है। 
    जिलाध्यक्ष श्री सुशील रघुवंशी ने कहा कि मध्यप्रदेश की पहली सरकार है, जिसनें तेंदूपत्ता संग्राहकों की मजदूरी में वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बेटी के जन्म से लेकर उसकी शादी तक के लिए अनेकों योजनाए संचालित की है। कार्यक्रम का संचालन श्री गिरीश मिश्रा और अंत में सभी का आभार अनुविभागीय अधिकारी (वन) श्री शैलेन्द्र सिंह तोमर ने व्यक्त किया।

 

Tags: tendupatta sangrahak sammelan

Post your comment
Name
Email
Comment
 

शिवपुरी

विविध