खास खबरें मुंबई की मॉडल ने महाकाल मंदिर समिति से मांगी माफी पीएम मोदी आज सिक्किम में करेंगे पाक्‍यांग एयरपोर्ट का उद्घाटन 'गोल्‍डन ग्‍लोब' रेस में हिस्‍सा ले रहे भारतीय नौसेना के अभिषेक भीषण तूफान में फंसे, बचाव दल रवाना एशिया कप : रोहित-धवन ने जमाया शतक, पाकिस्‍तान पर 9 विकेट से भारत की धमाकेदार जीत समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर कुल्‍लू में बादल फटा, बाढ़ में बही वॉल्‍वो बस, पर्यटक फंसे आज से शुरू होगा, पितृों का पूजन-तर्पण, पूर्णिमा का होगा पहला श्राद्ध

जनसुनवाई में हुआ समस्याओं का निराकरण

जनसुनवाई में हुआ समस्याओं का निराकरण

Post By : Dastak Admin on 28-Aug-2018 20:05:48

jansunvai

 

सागर | राज्य शासन के आदेशानुसार नागरिकों की समस्याओं, शिकायतों, मांग आवेदनों और बीमारी के उपचार व अन्य प्रकार की सहायता आवेदनों के त्वरित निराकरण हेतु हर सप्ताह मंगलवार के दिन साप्ताहिक जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। इसी क्रम में मंगलवार को कलेक्ट्रेट में जनसुनवाई कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों डिप्टी कलेक्टर सुश्री शशि मिश्रा, नायब तहसीलदार श्री अजेन्द्रनाथ प्रजापति एव नायब तहसीलदार सुश्री सोनम पाण्डे द्वारा जिले के दूरदराज से आये 70 से अधिक आवेदकों की समस्याएं सुनी गयीं और इनके निराकरण के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया। 
    सूबेदार वार्ड सागर से आये श्री तुलसीराम नामदेव ने आवेदन देते हुये बताया की कि वह वृद्ध है एवं कान से कम सुनाई देता है। उन्होंने कान की मशीन हेतु आवेदन दिया। इस संदर्भ में अधिकारियों ने सामाजिक न्याय एवं निःशक्त कल्याण विभाग के अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने को निर्देशित किया। 
    श्रीमती सपना लोधी बेरखेरी सागर निवासी ने बताया कि वह यहां कि स्थायी निवासी है। उन्होंने कुटीर निर्माण एवं शौचालय निर्माण हेतु आवेदन किया लेकिन राशि नहीं मिल पायी है। जिससे वह परेशान हो रही है। संबंधित अधिकारियों ने सीईओ जनपद पंचायत सागर को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
 

Tags: jansunvai

Post your comment
Name
Email
Comment
 

सागर

विविध