खास खबरें एसआई सहित 90 पुलिसकर्मियों की अदला-बदली आयुष्मान योजना : हर 12 सेकेंड में हो रहा है एक गरीब का मुफ्त इलाज शटडाउन : 'भूखे' अमेरिकियों को मुफ्त में खाना खिला रहा है टेक्सास का गुरुद्वारा कल मेलबर्न में खेला जाएगा भारत बनाम ऑस्‍ट्रेलिया तीसरा वनडे मैच BSP और SP के गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल भी शामिल, इस तरह हुआ सीटों का बंटवारा सरेआम हुई दीपक कलाल की पिटाई, राखी सावंत ने किया था शादी का ऐलान वर्ल्ड रैंक में भारत की 49 यूनिवर्सिटी ने बनाई जगह, यहॉं देखे सूची एप्टीट्यूड टेस्ट दो पारी और पात्रता परीक्षा एक पारी में होगी सबसे बड़े स्‍लम धारावी के आएंगे अच्‍छे दिन, 70 हजार परिवारों को मिलेगा पक्‍का घर पौष मास की पुत्रदा एकादशी का व्रत रखने से मिलता है संतान प्राप्ति का वरदान

जीवन को श्रेष्ठ एवं महान बनाने में माता-पिता से बढ़कर शिक्षकों की भूमिका है : विधायक टीकमगढ़

जीवन को श्रेष्ठ एवं महान बनाने में माता-पिता से बढ़कर शिक्षकों की भूमिका है : विधायक टीकमगढ़

Post By : Dastak Admin on 05-Sep-2018 22:35:05

teachers day


शिक्षण और समाज के प्रति समर्पित शिक्षक ही हमेशा सम्मान प्राप्त करते हैं : कलेक्टर, समारोह में 105 सेवा निवृत्त एवं 35 कार्यरत उत्कृष्ट शिक्षक-शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया, शिक्षक सम्मान समारोह आयोजित 
टीकमगढ़ | डॉ. राधाकृष्णन के जन्म दिन शिक्षक दिवस पर आज स्थानीय उत्सव भवन में शिक्षक सदन निर्माण समिति एवं शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इसमें 105 सेवा निवृत्त एवं 35 कार्यरत उत्कृष्ट शिक्षक-शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया। 
   समारोह के मुख्य अतिथि टीकमगढ़ विधायक श्री केके श्रीवास्तव थे तथा अध्यक्षता कलेक्टर श्री अभिजीत अग्रवाल ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में शिक्षा विद एवं सेवानिवृत्त प्राचार्य श्री टीसी शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक श्री कुमार प्रतीक मौजूद थे। शिक्षक सम्मान समारोह का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा एवं डॉ. राधाकृष्णन के चित्र के समक्ष दीपप्रज्जवलित कर किया गया। कन्या हायर सेकेण्ड्री की छात्राओं ने सरस्वती बन्दना का गायन किया। 
जीवन को श्रेष्ठ एवं महान बनाने में माता-पिता से बढ़कर शिक्षकों की भूमिका है
   इस अवसर पर मुख्यअतिथि विधायक श्री श्रीवास्तव ने कहा कि जीवन को श्रेष्ठ एवं महान बनाने में माता-पिता से बढ़कर शिक्षकों की भूमिका है क्योंकि शिक्षक जो ज्ञान देता है उसी ज्ञान के आधार पर वह प्रगति करता है और निर्धारित लक्ष्य हासिल करने में सफल होता है। 
शिक्षण और समाज के प्रति समर्पित शिक्षक ही हमेशा सम्मान प्राप्त करते हैं
   कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे कलेक्टर श्री अभिजीत अग्रवाल ने कहा कि शिक्षण और समाज के प्रति समर्पित शिक्षक ही हमेशा सम्मान प्राप्त करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शिक्षक की सोच शाला के छात्र-छात्राओं के प्रति अपने बच्चों जैसी होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि आज शाला भवन तो है पर पढ़ाने वाले कितने हैं, इसके विश्लेषण की जरूरत है। प्रत्येक शिक्षक में अध्ययन का भाव होना चाहिये।
   इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि पुलिस अधीक्षक श्री कुमार प्रतीक ने कहा कि शिक्षक हमें जीना सिखाते हैं। शिक्षकों का सम्मान एक दिन तक सीमित नहीं होकर हर दिन होना चाहिये। शिक्षाविद श्री टी.सी.शर्मा ने कहा कि प्रत्येक शिक्षकों को निणय पूर्वक अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिये। कर्तव्यों से ही चरित्र में निखार आता है और सम्मान मिलता है। उन्होंने कहा कि देश में शिक्षा पद्धिति एक जैसी होना चाहिये। 
   समारोह के दौरान शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भी प्रेरणादायी गीत गाकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। इसके पश्चात उत्कृष्ट शिक्षक-शिक्षिकाओं का शाल, श्री फल व सम्मान पत्र भेंटकर सम्मान किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक डीईओ श्री अजब सिंह ठाकुर, श्री राजेन्द्र श्रीवास्तव, श्री अनुराग वर्मा, श्री गोपाल सिंह राय तथा जनप्रतिनिधि, श्री रामेश्वर श्रोती, जगदीश दुबे, श्री रवीन्द्र सक्सेना, श्री हरीश अवस्थी, श्री वीरेन्द्र चन्सौरिया, श्री एसएस शर्मा, श्री एसएन शिवहरे, श्री एसपी पांडे, श्री डीआर प्रजापति, श्री शरद खरे, श्री सीएल कुम्हार, श्री एसके सोनी सहित सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिकायें एवं कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी मौजूद रहे।

Tags: teachers day

Post your comment
Name
Email
Comment
 

टीकमगढ़

विविध