खास खबरें भारत में ऐसे 500 स्थान हैं जिनमें कश्मीर जैसे हालात पीएम मोदी ने किया मतदान, मतदान करने लोगों से करी अपील श्रीलंका विस्फोट में मारे गए लोगों का सामूहिक अंतिम संस्कार एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप : गोमती ने जीता भारत के लिए पहला गोल्‍ड, शिवपाल ने जीता सिल्‍वर शूटिंग से समय निकाल संजय दत्‍त ने किया बहन प्रिया दत्‍त के लिए चुनाव प्रचार टिकट खिड़की पर टल गई सलमान और रणबीर की टक्कर सेंसेक्स 38800 के पार, निफ्टी 11640 के आसपास युवक-युवती के संबंधों से नाराज थे ग्रामीण, खेत में करंट लगाकर ले ली प्रेमी की जान महिला पत्रकार कर रही थी केंद्रीय मंत्री से ढाई करोड़ की मांग, पुलिस ने किया गिरफ्तार संकष्‍टी चतुर्थी पर ऐसे करें भगवान श्रीगणेश की पूजा

मानसिक रूप से विक्षप्ति महिला द्वारा एक बालक शिशु को जन्म दिया गया था

मानसिक रूप से विक्षप्ति महिला द्वारा एक बालक शिशु को जन्म दिया गया था

Post By : Dastak Admin on 05-Aug-2018 18:37:08

matrachhaya sewa


विधिक रूप से मुक्त घोषित किया जाना है इस संबंध में बालक कि कोई अभिभावक इसे प्राप्त करना चाहते हैं 
मण्डला |  जिला बाल संरक्षण अधिकारी जिला मण्डला से प्राप्त जानकारी अनुसार 27 दिसम्बर 2017 को मानसिक रूप से विक्षप्ति महिला द्वारा एक बालक शिशु को जन्म दिया गया था जिसे दिनांक 19 जनवरी 2018 को अध्यक्ष बाल कल्याण समिति मण्डला के आदेश द्वारा मातृछाया सेवा भारती जबलपुर भेजा गया था मातृछाया सेवा जबलपुर में उक्त बालक का नाम चि.बंसत फाईल क्र. 296 जन्म तिथि 27.12.2017, बजन 6.2, किलोग्राम लंबाई 58 सेंटीमीटर सिर का घेरा 38 सेंटीमीटर एवं रंग गोरा है।
    किशोर न्याय (बालकों का देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम 2015) एवं 2016 के अंतर्गत उक्त बालक को दत्तक गृहण हेतु विधिक रूप से मुक्त घोषित किया जाना है इस संबंध में बालक कि कोई अभिभावक इसे प्राप्त करना चाहते हैं विज्ञप्ति जारी होने के दिनंाक जारी होने के 30 दिवस के अंदर किसी भी दिन कार्यालय समय में पर्याप्त पुष्टिकारक प्रमाण के साथ रेडक्रास भवन द्वितीय तल में अपना दावा प्रस्तुत करें समयावधि समाप्ति के उपरांत उक्त बालक को दत्तक गृहण हेतु विधिक रूप से मुक्त घोषित करने की कार्यवाही की जायेगी इस संबंध में कोई दावा मान्य नहीं होगा।

 

Tags: matrachhaya sewa

Post your comment
Name
Email
Comment
 

मंडला

विविध