खास खबरें मोगली बाल उत्सव- 2018, एप्को में राज्य स्तरीय ट्रेनर एवं क्विज मास्टर प्रशिक्षण कार्यक्रम आज रेवाड़ी गैंगरेप काण्‍ड के दो अन्‍य आरोपी SIT की गिरफ्त में राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश खेल मंत्रालय ने दी सफाई, विराट कोहली को क्‍यों चुना गया 'खेल रत्‍न' के लिए समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर आंध्रप्रदेश : नक्‍सलियों ने की टीडीपी के विधायक और पूर्व विधायक की हत्‍या क्‍यों मनाई जाती है अनंत चतुदर्शी, क्‍या है अंनतसूत्र का महत्‍व

पुराने रजिस्ट्रेशन कार्ड जुगाड़ते फिर बाइक चुराते और नंबर लिखकर बेचने वाला गिरोह पहली बार पकड़ाया

Post By : Dastak Admin on 10-Sep-2018 14:22:53 Junking old registrations card,caught the gang for the first time

चोरी हुई अपनी बाइक को खोजकर गाड़ी मालिक ने जिस चोर को पकड़वाया पुलिस उसकी बदौलत पूरे गिरोह तक जा पहुंची। पांच सदस्यीय गैंग से चोरी की 12 बाइक और पांच झोलेकर भरकर पाटर्स भी बरामद हुए। आरोपियों से आठ गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन कार्ड भी मिले हैं। आरोपी चोरी की गाड़ियों के पाटर्स खोलकर बाजार में सस्ते दाम में बेंचते थे। पुरानी बाइक और उनके रजिस्ट्रेशन जुगाड़ने के बाद चुराई बाइक पर उक्त रजिस्ट्रेशन नंबर लिख बेच देते थे इसी कारण अब तक पकड़े नहीं गए। गिरोह के सरगना का 5 सितंबर को ही खुलासा कर दिया था। 
घासमंडी में रहने वाले ट्रेवल्स संचालक संजय गौड़ की बाइक 8 अगस्त को हरसिद्धि क्षेत्र से चोरी हुई थी। गौड़ ने सप्ताहभर पहले फ्रीगंज में टावर विक्रेता की दुकान पर खड़ी अपनी बाइक पहचान ली और महाकाल थाना पुलिस को सूचना दे दी थी। पुलिस पहुंची तो टायर की दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी ने 12 हजार 700 रुपए में केडीगेट के इमरान से बाइक खरीदना बताया था। इसी के बाद महाकाल टीआई राकेश मोदी ने इमरान को पकड़ा तो पूरी गैंग गिरफ्त में आ गई। रविवार को एसपी सचिन अतुलकर ने वाहन चोर गिरोह का खुलासा करते हुए बताया कि पांच सदस्यों की गैंग में सभी का काम बंटा हुआ था आरोपियों से जब्त रजिस्ट्रेशन कार्ड के बारे में पूछताछ करने पर अन्य चोरियों का भी पता चलेगा। सभी आरोपी फिलहाल रिमांड पर है। 

Post your comment

  • Post your comment
    Name
    Email
    Comment
     

विविध