खास खबरें 2011 में की थी शहर में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा की मांग विदेश मंत्रालय की निगरानी में आयोजित होगा प्रवासी भारतीय में 'स्‍पेशल 65' संग भोज, पीएम मोदी करेंगे शिरकत सीरिया में पड़ रही मौसम की मार, कड़ाके की ठण्‍ड से 15 बच्‍चों की मौत मनु साहनी बने आईसीसी के नए सीईओ सांसद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के अपनी ही पार्टी के लिए बगावती बोल, कहा- पार्टी में अब 'तानाशाही' सरेआम हुई दीपक कलाल की पिटाई, राखी सावंत ने किया था शादी का ऐलान फिर बढ़े तेल के दाम, पेट्रोल आज हुआ इतना महंगा मीजल्स की बीमारी को जड़ से खत्म करना जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा गुजरात : गांधीनगर में आज पीएम मोदी सहित मेगा ट्रेड शो में हिस्‍सा लेंगे 125 देशों के प्रतिनिधि और दिग्‍गज उद्योगपति पौष मास की पुत्रदा एकादशी का व्रत रखने से मिलता है संतान प्राप्ति का वरदान

2004 के सिंहस्थ में सेवाएं देने वाले ये अधिकारी भी इस सिंहस्थ में भी देंगे अपनी सेवाएं

Post By : Dastak Admin on 25-Mar-2016 10:14:13

राज्य प्रशासनिक सेवा

उज्जैन। सिंहस्थ महाकुंभ में प्रशासन ने अनुभवी एवं कर्मठ राज्य प्रशासनिक अधिकारियों को उज्जैन बुलाया है। कई इस लिस्ट में कई अधिकारी तो ऐसे भी है जो 2004 के सिंहस्थ महाकुंभ में अपनी सेवाएं दे चूके है। ये चयनित अधिकारी अब 2016 के सिंहस्थ महाकुंभ में भी उज्जैन प्रशासन को सेवाओं देंगे।

 

ये है वो अधिकारी…

नरेन्द्र सूर्यवंशी, अपर कलेक्टर

संतोष वर्मा, अपर कलेक्टर

नीरज वशिष्ट, अतिरिक्त मेला अधिकारी

विवेक श्रोत्रिय, अपर कलेक्टर

अनिल पटवा, संयुक्त कलेक्टर

जगदीश गोमे, डिप्टी कलेक्टर

शिव कुमार दूबे, साधू सत्कार अधिकारी

क्षितिज शर्मा, एसडीएम उज्जैन

दिलीप गरुड़, सहायक प्रशासनिक अधिकारी

अपनी जानकारी दे

नाम
ई-मेल
मोबाइल
फोटो

आपके समाचार

शब्द प्रारूप और पाठ प्रारूप में समाचार फ़ाइल

Subscribe Newsletter




आपका वोट

अपना राशिफल देखें

मेष वृषभ मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन
मेष

मित्र मददगार साबित होंगे। सामाजिक क्षेत्र में वर्चस्‍व बढ़ेगा। रिश्‍तेदारों के बीच गलतफहमी उत्‍पन्‍न हो सकती है। आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। सेहत के प्रति जागरुक रहें। यात्रा टालें।

महाकाल आरती समय

dastak news ujjain

  महाकाल आरती समय

आरती

चैत्र से आश्विन तक

कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा से फाल्गुन पूर्णिमा तक

भस्मार्ती

प्रात: 4 बजे श्रावण मास में प्रात: 3 बजे

प्रातः 4 से 6 बजे तक।

दध्योदन

प्रात: 7 से 7:45 तक

प्रात: 7:30 से 8:15 तक

महाभोग

प्रात: 10 से 10:45 तक

प्रात: 10:30 से 11:15 तक

सांध्य

संध्या 5 से 5:45 तक

संध्या 5 से 5:45 बजे तक

सांध्य

संध्या 7 से 7:45 तक

संध्या 6:30 से 7:15 तक

शयन

रात्रि 10:30 बजे

रात्रि 10:30 से 11 बजे तक

आज का विचार

    भूखा पेट, खाली जेब और झूठा प्रेम इंसान का जीवन में बहुत कुछ सीखा देता है। - अज्ञात

विविध