खास खबरें गया कोठा तीर्थ के विकास के लिए भूमिपूजन किया रेवाड़ी गैंगरेप काण्‍ड के दो अन्‍य आरोपी SIT की गिरफ्त में राफेड विवाद में पाक ने अड़ाई अपनी टांग, कहा- सरकार कर रही पीएम मोदी को बचाने की कोशिश खेल मंत्रालय ने दी सफाई, विराट कोहली को क्‍यों चुना गया 'खेल रत्‍न' के लिए समाजवादी पार्टी की ‘सामाजिक न्याय व लोकतंत्र बचाओ’ यात्रा पहुँची जंतर-मंतर, पार्टी संस्थापक और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने भरी हुंकार सनी देओल-साक्षी तंवर स्‍टॉरर 'मोहल्‍ला अस्‍सी' आखिरकार इस दिन होगी रिलीज मुंबई में पेट्रोल के दाम पहुँचे 90 रूपये के करीब राष्ट्रीय स्कॉलरशिप परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 25 सितम्बर आंध्रप्रदेश : नक्‍सलियों ने की टीडीपी के विधायक और पूर्व विधायक की हत्‍या क्‍यों मनाई जाती है अनंत चतुदर्शी, क्‍या है अंनतसूत्र का महत्‍व

नागदा में सिंधिया को काले-झंडे दिखाने की भनक लगी तो बदल लिया काफिले का रास्ता, कारणी सेना ने की बातचीत

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 09:48:40

ujjain

Ujjain @ मप्र कांग्रेस के चुनाव प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया दिल्ली से नागदा पहुंचे। यहां सर्किट हाउस में वे कार्यकर्ताओं से चर्चा कर रहे थे, तभी करणी सेना के सदस्य पहुंचे और एससी-एसटी एक्ट को लेकर अचानक सवालों की बौछार कर दी। उनके जवाब और चर्चा के बाद जब सिंधिया कालूखेड़ा के लिए निकले तो रास्ते में उन्हें काले झंडे दिखाने की तैयारी हो गई। करणी सेना के कार्यकर्ता रास्ते में खड़े रहे। हालांकि सिंधिया समर्थकों को जानकारी लग गई और काफिले का रास्ता बदल दिया गया। नागदा से कालूखेड़ा के लिए रवाना होने के बाद घिनौदा फंटे पर करणी सेना कार्यकर्ताओं ने सिंधिया को काले झंडे दिखाए। हालांकि इसकी भनक कांग्रेस नेता दिलीपसिंह गुर्जर को पहले से लग चुकी थी, तो तत्काल रास्ता बदलकर सिंधिया का काफिला निकाला गया। इससे करणी सेना के कार्यकर्ता काफी दूर रह गए। सिंधिया जब सभा को संबोधित कर रहे थे, तो बड़ी संख्या में मौजूद कार्यकर्ता झंडे लहराते हुए उनका स्वागत कर रहे थे। स्वागत के बाद सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को कांग्रेस की सरकार बनाने का आह्वान किया।

अपनी जानकारी दे

नाम
ई-मेल
मोबाइल
फोटो

आपके समाचार

शब्द प्रारूप और पाठ प्रारूप में समाचार फ़ाइल

Subscribe Newsletter




आपका वोट

किसानों ने बैंको से ऋण ले रखा था किंतु अब वे उसे चुका नही पा रहे हैं। क्या किसानों के बैंक ऋण सरकार को माफ करना चाहिए ?
हां
88%
ujjain poll
नहीं
10%
पता नहीं
1%
सर्वेक्षण

अपना राशिफल देखें

मेष वृषभ मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन
मेष

व्यापार में कुछ नुकसान हो सकता है। वाद-विवाद की स्थिति ना बनने दें। नौकरी में सहयोगी परेशान कर सकते हैं। धर्म कर्म में रुचि बढ़ेगी। यात्रा शुभ।

महाकाल आरती समय

dastak news ujjain

  महाकाल आरती समय

आरती

चैत्र से आश्विन तक

कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा से फाल्गुन पूर्णिमा तक

भस्मार्ती

प्रात: 4 बजे श्रावण मास में प्रात: 3 बजे

प्रातः 4 से 6 बजे तक।

दध्योदन

प्रात: 7 से 7:45 तक

प्रात: 7:30 से 8:15 तक

महाभोग

प्रात: 10 से 10:45 तक

प्रात: 10:30 से 11:15 तक

सांध्य

संध्या 5 से 5:45 तक

संध्या 5 से 5:45 बजे तक

सांध्य

संध्या 7 से 7:45 तक

संध्या 6:30 से 7:15 तक

शयन

रात्रि 10:30 बजे

रात्रि 10:30 से 11 बजे तक

आज का विचार

    उस मनुष्य की ताकत का कोई मुकाबला नही कर सकता जिसके पास सब्र की ताकत है। - अज्ञात

उज्जैन सिनेमा

     

उज्जैन मानचित्र

पंचक्रोशी यात्रा मानचित्र

विविध