खास खबरें तपोभूमि में हुई कल्याण मंदिर विधान की रचना अब प्राइवेट स्‍कूल-कॉलेजों में भी मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण का लाभ सीरिया में पड़ रही मौसम की मार, कड़ाके की ठण्‍ड से 15 बच्‍चों की मौत मनु साहनी बने आईसीसी के नए सीईओ सांसद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के अपनी ही पार्टी के लिए बगावती बोल, कहा- पार्टी में अब 'तानाशाही' अंकिता लोखंडे ने इजहार, बोलीं- 'हां मैं प्यार में हूं' शीर्ष 100 ग्लोबल थिंकर्स की सूची में भारतीय मुकेश अंबानी का नाम मीजल्स की बीमारी को जड़ से खत्म करना जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा कर्नाटक : दो निर्दलीय विधायकों ने लिया समर्थन वापस, सीएम कुमार स्‍वामी बोले- मेरी सरकार स्थिर धर्म का चोला पहनकर अधर्म करने वाला होता है महान अपराधी

विकास की ऐसी रफ्तार, 10 साल में भी तैयार नहीं हुआ कॉलेज भवन

Post By : Dastak Admin on 12-Jul-2018 09:52:39

उल्लू बनाया

उज्जैन : शहर का प्रमुख कन्या महाविद्यालय (कालिदास महाविद्यालय) लंबे समय से किराए के भवन में संचालित हो रहा है। कॉलेज का मौजूदा भवन पूरी तरह से जर्जर है और उपयोग लायक नहीं है। छात्राओं की असुविधा को दूर करने के लिए दो दशक पूर्व कॉलेज के लिए नए भवन के प्रयास शुरू हुए। इन प्रयासों को वर्ष 2008 में सफलता मिली। जब कॉलेज को भूमि आवंटन के साथ निर्माण के लिए पैसा मिला, लेकिन प्रदेश में विकास की रफ्तार ऐसी है कि 10 साल गुजर जाने के बाद भी कॉलेज का भवन तैयार नहीं हुआ है।

       एक साल पहले उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया उज्जैन प्रवास पर आए तो उन्होंने जल्द ही कॉलेज का भवन तैयार होने की बात कही। अब एक बार फिर कॉलेज भवन का निर्माण कार्य को पूरा करने की अवधि 15 अगस्त निर्धारित की गई, लेकिन काम की रफ्तार को देखकर यह भी मुमकिन नजर नहीं आ रहा है। बता दें कि कालिदास कॉलेज शहर के बीच में तेलीवाड़ा में संचालित हो रहा है। कॉलेज का नया भवन खाक चौक के पास निर्माणधीन है।

अपनी जानकारी दे

नाम
ई-मेल
मोबाइल
फोटो

आपके समाचार

शब्द प्रारूप और पाठ प्रारूप में समाचार फ़ाइल

Subscribe Newsletter




आपका वोट

देश में लोक सभा के चुनाव होने वाले है। क्या केन्द्र में भाजपा की सरकार फिर से आयेगी ?
हां
47%
ujjain poll
नहीं
47%
पता नहीं
7%
सर्वेक्षण

अपना राशिफल देखें

मेष वृषभ मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन
मेष

सामाजिक कार्यों में सराहना मिल सकती है। ईश्वर भजन में समय व्यतित होगा। अतिरिक्त आय के साधन सुलभ होंगे। सांसरिक सुख साधन बढ़ेंगे। भवन निर्माण हो सकता है। निवेश से लाभ होगा।

महाकाल आरती समय

dastak news ujjain

  महाकाल आरती समय

आरती

चैत्र से आश्विन तक

कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा से फाल्गुन पूर्णिमा तक

भस्मार्ती

प्रात: 4 बजे श्रावण मास में प्रात: 3 बजे

प्रातः 4 से 6 बजे तक।

दध्योदन

प्रात: 7 से 7:45 तक

प्रात: 7:30 से 8:15 तक

महाभोग

प्रात: 10 से 10:45 तक

प्रात: 10:30 से 11:15 तक

सांध्य

संध्या 5 से 5:45 तक

संध्या 5 से 5:45 बजे तक

सांध्य

संध्या 7 से 7:45 तक

संध्या 6:30 से 7:15 तक

शयन

रात्रि 10:30 बजे

रात्रि 10:30 से 11 बजे तक

आज का विचार

    आपकी अच्‍छाई आपके मार्ग में बाधक है, इसलिए अपनी ऑंखों को क्रोध से लाल होने दीजिये, और अन्‍याय का मजबूत हाथों से सामना कीजिये। - सरदार पटेल

Games